तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव ने दिया इस्तीफा, विधानसभा भंग

108 0

हैदराबाद। तेलंगाना के मुख्यमंत्री के. चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने गुरुवार (6 सितंबर) को अचानक मंत्रिमंडल की आपात बैठक बुलाकर राज्य विधानसभा को भंग करने की सिफारिश कर दी। बैठक के बाद मुख्यमंत्री केसीआर ने राज्यपाल ईएसएल नरसिम्हन से मुलाकात कर उन्‍हें विधानसभा भंग करने का प्रस्ताव सौंपा जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया है। उधर, तेलंगाना कांग्रेस अध्यक्ष एन. उत्तम कुमार रेड्डी ने केसीआर के फैसले की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि केसीआर ने विधानसभा भंग करके अपनी कब्र खोदी है। हम चुनाव के लिए तैयार हैं।

लगाई जा रही थीं अटकलें

बता दें कि राजनीतिक हलकों में पिछले करीब 15 दिनों से विधानसभा भंग करने और जल्दी चुनाव कराए जाने की अटकलें लगाई जा रही थीं। वैसे तो तेलंगाना विधानसभा का चुनाव अगले साल लोकसभा चुनाव के साथ होना निर्धारित है, लेकिन सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) दोनों चुनाव अलग-अलग कराने में राजनीतिक लाभ देख रही है। पार्टी को मई 2014 में हुए पहले विधानसभा चुनाव में राज्य में जीत मिली थी। उसने 119 सदस्यीय विधानसभा में 63 सीटों पर जीत हासिल की थी।

क्‍यों भंग की विधानसभा ?

दरअसल केसीआर चाहते हैं कि साल के अंत में 4 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के साथ उनके राज्य में भी चुनाव कराए जाएं। ज्योतिष में खासा विश्वास रखने वाले मुख्यमंत्री 6 अंक को बेहद शुभ मानते हैं, इसलिए उन्होंने इस अहम फैसले के लिए 6 सितंबर का दिन चुना। उनका मानना है कि अचानक विधानसभा भंग करा देने से विपक्षी दलों को चुनाव की तैयारी के लिए ज्यादा मौका नहीं मिलेगा। राव को इस बात का भी एहसास है कि राज्य में आज की तारीख में विपक्ष के पास उनके बराबर का कोई भी नेता नहीं है। लोकसभा से पहले विधानसभा चुनाव कराने से उन्हें खासी मेहनत नहीं करनी पड़ेगी और अपनी छवि का राज्यस्तरीय चुनाव में फायदा उठा सकेंगे।

Related Post

पुलिस आधुनिकीकरण पर 25060 करोड़ रुपये खर्च करेगी सरकार

Posted by - September 28, 2017 0
  मोदी सरकार का सरकारी डॉक्टरों को तोहफा, अब 65 साल की उम्र में होंगे रिटायर नई दिल्ली। केंद्र सरकार के अधीन अलग-अलग विभागों में…

अगर घर में लगाएंगे पौधे तो हमेशा रहेंगे हेल्दी, स्किन की ये समस्या भी हो जाएगी दूर

Posted by - October 22, 2018 0
लंदन। जिन लोगों के घरों में पौधे मौजूद होते हैं, वो लोग दूसरे लोगों के मुकाबले ज्यादा हेल्दी होते हैं।…

निठारी कांड : अंजलि हत्‍याकांड में पंढेर और कोली को फांसी की सजा

Posted by - December 8, 2017 0
गाजियाबाद की विशेष सीबीआई अदालत ने हत्‍याकांड को रेयरेस्ट ऑफ द रेयर माना गजियाबाद : गाजियाबाद की विशेष सीबीआई अदालत…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *