Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

सिगरेट-शराब पीने वाले किशोर को 17 की उम्र में ही जाती है ये बीमारी, जानकर चौंक जाएंगे

106 0

मिशिगन। अमेरिका में हुई एक स्टडी में ये बात सामने आई है कि जो किशोर शराब और सिगरेट पीते हैं, उनकी आर्टरी को 17 साल की उम्र में ही नुकसान पहुंचने लगता है। इसकी वजह से आगे चलकर उन्हें स्ट्रोक और दिल का दौरा भी पड़ सकता है।

ऐसे की गई स्टडी

शोधकर्ताओं ने 2004 और 2008 के बीच 13, 15 और 17 साल की उम्र के 1,266 किशोरों को इस अध्‍ययन में शामिल किया। इन किशोरों से उनकी धूम्रपान और पीने की आदतों के बारे में पूछा गया। उनसे ये सवाल पूछे गए-

1. अब तक आप कितनी सिगरेट पी चुके हैं।

2. किस उम्र में आपने शराब पीना शुरू कर दिया था।

इसके बाद किशोरों के जवाब के आधार पर मिले डेटा का अध्ययन किया गया और जांच की गई कि उनकी आर्टरी को नुकसान पहुंचा है या नहीं।

शोध में क्या सामने आया

स्टडी में सामने आया कि जो लोग 100 से ज्यादा सिगरेट पी चुके थे उनकी आर्टरी को काफी नुकसान पहुंच चुका था। स्टडी में बताया गया कि अगर किशोर शराब और सिगरेट पीना बंद कर देते हैं तो उनकी आर्टरी फिर से सही हो जाती है। इस स्टडी को यूरोप हर्ट जर्नल में पब्लिश किया गया है।

क्या कहना है शोधकर्ताओं का

यूसीएल इंस्टीट्यूट ऑफ कार्डियोवैस्कुलर साइंस में शोध करने वाली डॉ. मारिएता चरकीडा का कहना है कि अगर किशोर कम उम्र में ही शराब और सिगरेट पीना शुरू कर देते हैं वो उनके ब्लड वेसल्स को बहुत नुकसान पहुंचाता है। हालांकि कुछ अध्ययनों से भी पता चला है कि हाल के वर्षों में किशोर कम धूम्रपान कर रहे हैं। ऐसा देखा गया है कि जिस परिवार में लोग स्मोकिंग करते हैं, वहां किशोर भी स्मोकिंग करना शुरू कर देते हैं। अगर आप अपने दिल को नुकसान पहुंचने से बचाना चाहते हैं तो स्मोकिंग छोड़ देना बेहतर ऑप्शन है।

Related Post

भ्रष्टाचार खत्म करने को हर कीमत चुकाने को तैयार:मोदी

Posted by - November 30, 2017 0
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को दिल्ली में हुए एक कार्यक्रम में भ्रष्टाचार, नोटबंदी, और केंद्र सरकार की कई…

फोर्ब्‍स लिस्‍ट : दुनिया की पावरफुल महिलाओं में पांच भारतीय भी

Posted by - November 2, 2017 0
फोर्ब्स मैगजीन ने दुनिया की सबसे शक्तिशाली महिलाओं की लिस्ट जारी की है. इसमें पेप्स‍िको की सीईओ इंदिरा नूई और आईसीआईसीआई…

कावेरी जल विवाद : सुप्रीम कोर्ट ने कहा, नदी पर किसी एक राज्य का अधिकार नहीं

Posted by - February 16, 2018 0
ऐतिहासिक फैसले में सर्वोच्‍च अदालत ने तमिलनाडु के पानी में की कटौती, कर्नाटक को ज्‍यादा पानी नई दिल्ली। कावेरी जल विवाद…

वैज्ञानिकों का दावा, स्तन कैंसर के इलाज में मददगार है नीम

Posted by - July 27, 2018 0
हैदराबाद के राष्ट्रीय औषधीय शिक्षा एवं अनुसंधान संस्थान (NIPER) के वैज्ञानिकों ने किया शोध हैदराबाद। वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *