आईआरसीटीसी घोटाला : राबड़ी, तेजस्वी को जमानत, लालू के खिलाफ वारंट जारी

58 0

नई दिल्ली।  राष्‍ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव के परिवार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। आईआरसीटीसी घोटाले में सीबीआई की विशेष अदालत ने पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव को राहत प्रदान करते हुए जमानत दे दी है। हालांकि पेशी के लिए लालू के नहीं पहुंचने पर कोर्ट ने उनके खिलाफ पेशी वारंट जारी किया है।

एक लाख के मुचलके पर जमानत

आईआरसीटीसी घोटाले में पटियाला हाउस कोर्ट की विशेष सीबीआई अदालत ने तेजस्‍वी और राबड़ी देवी सहित सभी आरोपियों को एक-एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर जमानत दी है। सीबीआई की अर्जी पर कोर्ट ने लालू प्रसाद यादव को 6 अक्‍टूबर को कोर्ट के सम्‍मुख पेश करने के लिए प्रोडक्‍शन वारंट जारी किया है। बता दें कि यह पहला ऐसा मामला है जिसमें तेजस्वी एक आरोपी के तौर पर कोर्ट में पेश हुए। इस मामले की अगली सुनवाई अब 6 अक्‍टूबर को होगी।

सीबीआई ने नहीं किया विरोध

बता दें कि कोर्ट में इस मामले की सुनवाई के दौरान सीबीआई ने ना तो आरोपियों की रिमांड की मांग की और ना ही उनकी जमानत का विरोध किया।  उधर, आरजेडी के प्रवक्‍ता और राज्‍यसभा सांसद मनोज झा ने कहा कि ये कानूनी लड़ाई है और इसे कानूनी तरीके से ही लड़ेंगे और जीतेंगे। बता दें कि लालू यादव इस समय चारा घोटाले मामले में रांची में न्यायिक हिरासत में हैं। गुरुवार को लालू यादव को चारा घोटाले के मामले में आत्मसमर्पण करना पड़ा था। स्वास्थ्य के आधार पर पेरोल बढ़ाने की उनकी याचिका को रांची हाईकोर्ट ने ठुकरा दिया था।

ईडी ने दा‍खिल की थी चार्जशीट

उल्‍लेखनीय है कि प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने आईआरसीटीसी होटल आवंटन धनशोधन मामले में राजद प्रमुख लालू यादव, पत्‍नी राबड़ी यादव, बेटे तेजस्वी यादव और अन्य के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया है। आरोपपत्र में ईडी ने लालू के छोटे बेटे, राजद नेता पीसी गुप्ता, उनकी पत्‍नी सरला गुप्ता और लारा प्रोजेक्ट्स नाम की कंपनी और 10 अन्य पर आरोप लगाए हैं। ईडी का आरोप है कि पुरी और रांची स्थित रेलवे के दो होटलों के अधिकारों के सब-लीज कोचर के स्वामित्व वाली मेसर्स सुजाता होटल प्राइवेट लिमिटेड को देने के लिए लालू यादव और आईआरसीटीसी के अधिकारियों ने अपने पद का गलत इस्तेमाल किया।

 

Related Post

शैवाल की ऐसी प्रजातियां मिलीं, जो जलवायु परिवर्तन की निगरानी में मददगार

Posted by - September 11, 2018 0
लखनऊ। अरुणाचल प्रदेश के तवांग जिले में ऐसी शैवाल प्रजातियां मिली हैं, जिनका उपयोग जलवायु परिवर्तन की निगरानी के लिए…

अविश्वास प्रस्ताव के पक्ष में 181 सांसद, शिवसेना साथ छोड़े तो भी जीतेंगे मोदी

Posted by - March 16, 2018 0
नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा न दिए जाने को मुद्दा बनाकर वाईएसआर कांग्रेस, मोदी सरकार के…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *