हिज्बुल चीफ सलाउद्दीन के बेटे को NIA ने टेरर फंडिंग में किया गिरफ्तार

100 0

श्रीनगर। राष्‍ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को गुरुवार (30 अगस्‍त) सुबह एक बड़ी कामयाबी मिली,  जब उसने श्रीनगर के रामपुर इलाके से हिज्बुल मुजाहिद्दीन के मुखिया सैयद सलाउद्दीन के बेटे सैयद शकील अहमद को उसके घर से गिरफ्तार किया। शकील की गिरफ्तारी टेरर फंडिंग मामले में की गई है।

घर से मिले अहम दस्‍तावेज

मीडिया रिपोर्ट में एनआईए सूत्रों के हवाले से कहा गया है कि शकील अहमद के घर छापे में कई चौंकाने वाले दस्तावेज मिले,  जिसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। फिलहाल इसके बारे में जांच एजेंसियों की तरफ से और कोई खुलासा नहीं किया गया है। उसको गिरफ्तार करने वाली टीम में एनआईए के अलावा स्थानीय सुरक्षा बल और सीआरपीएफ भी शामिल थी।

जांच एजेंसी को नहीं दी कोई जानकारी

सूत्रों का कहना है कि शकील अहमद को एनआईए ने अपनी बात रखने के लिए तीन-चार बार मौका दिया, लेकिन उसने 2011 के टेरर फंडिंग के मामले में कोई भी जानकारी जांच एजेंसी को नहीं दी। बताया जा रहा है कि शकील के पास मनी ट्रांजेक्शन और विदेशों में मौजूद सैयद सलाउद्दीन के बेटों के अकाउंट के बारे में काफी जानकारियां हैं।

एक बेटा पहले से है गिरफ्तार

बता दें कि पिछले साल भी एनआईए ने सलाउद्दीन के एक बेटे सैयद शाहिद यूसुफ को गिरफ्तार किया था। उसे भी आतंकी संगठनों को फंडिंग करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। NIA  ने उसके खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी, जिसके बाद से ही वह दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। शाहिद पर आरोप है कि पाक अधिकृत कश्मीर में रह रहे अपने पिता सैयद सलाहुद्दीन से उसने आतंकी गतिविधियों के लिए कथित तौर पर पैसे लिए थे।

क्या करता हैं सलाहुद्दीन के पांचों बेटे ?

बता दें कि हिज्‍बुल सरगना सलाउद्दीन के पांच बेटे हैं। उसका बड़ा बेटा सैयद शकील अहमद श्रीनगर के शेरे कश्‍मीर इंस्‍टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में मेडिकल असिस्टेंट है। उसका दूसरा बेटा जावेद युसूफ बडगाम में ही जोनल एजुकेशन ऑफिस में कंप्यूटर ऑपरेटर है। तीसरा बेटा शाहिद युसूफ श्रीनगर में कृषि विभाग में काम करता था। चौथा बेटा वाहिद युसूफ श्रीनगर के शेरे कश्मीर इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस में ही डॉक्टर है। सलाउद्दीन का पांचवां बेटा सैयद मुईद कंप्यूटर इंजीनियर है।

Related Post

गुजरात चुनाव : ईवीएम के पास मिला वाई-फाई नेटवर्क, हैकिंग की आशंका

Posted by - December 17, 2017 0
कांग्रेस उम्मीदवार अशोक जरीवाला की शिकायत के बाद डीएम ने लगाई वाई-फाई सेवा पर रोक सूरत। गुजरात की कामरेज विधानसभा…

पुणे के इस गांव ने मच्छरों का नामो निशां नहीं, लोगों ने नामुमकिन को कर दिखाया मुमकिन

Posted by - October 11, 2018 0
पुणे। भारत में वैसे तो कई स्तर पर मच्छरों से निपटने के लिए अभियान चलाए जाते हैं, लेकिन पूरी तरह…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *