गूगल पर बरसे डोनाल्ड ट्रंप, पूछा – ‘ इडियट लिखते ही क्‍यों खुलती है मेरी फोटो ?’

20 0
  • अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने गूगल पर लगाया उनकी छवि खराब करने का आरोप, कर सकते हैं कार्रवाई

वॉशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने दुनिया के सबसे बड़े सर्च इंजन गूगल पर जमकर भड़ास निकाली है। उन्होंने मंगलवार को ट्वीट कर कहा कि गूगल पर हमेशा उनके खिलाफ ही समाचार प्रकाशित किए जाते हैं और जान-बूझकर उनकी छवि को नुकसान पहुंचाने का काम किया जा रहा है। अब वे गूगल के खिलाफ कार्रवाई करने की तैयारी में हैं।

गूगल पर लगाए गंभीर आरोप

ट्रम्प का कहना है कि जब से वे राष्ट्रपति बने हैं, मीडिया उनके खिलाफ खबरें चला रहा है। उनके खिलाफ नकारात्मक खबरें सर्च करने में गूगल की अहम भूमिका है। बता दें कि  कुछ दिन पहले अमेरिकी वेबसाइट ‘यूएसए टुडे’ ने एक खबर प्रकाशित की थी। इसमें बताया गया था कि अगर गूगल पर ‘इडियट’ लिखकर ढूंढते हैं तो सबसे पहले डोनाल्ड ट्रम्प की तस्वीर सामने आती है। इसे लेकर काफी बवाल हुआ था। ट्रंप इससे पहले भी मेनस्ट्रीम मीडिया पर निशाना साधते रहे हैं।

क्‍या कहा अमेरिकी राष्‍ट्रपति ने ? 

ट्रंप ने अपने ट्वीट में कहा, ‘ गूगल सर्च रिजल्ट में ट्रंप न्यूज में सिर्फ फेक न्यू मीडिया के विचार और रिपोर्टिंग मिलते हैं। मैं अगर दूसरे शब्दों में कहूं तो ये लोग मेरे और कुछ दूसरे लोगों के लिए पूरी तरह से कट्टर हैं, इसलिए हमारे खिलाफ सभी खबरें आम तौर पर बुरी ही होती हैं। यह झूठ फैलाने में सीएनएन अव्वल है। रिपब्लिकन और कंजर्वेटिव मीडिया और निष्पक्ष मीडिया को चुप करा दिया जा रहा है।

खबरें छिपाने का भी आरोप

एक अन्‍य ट्वीट में ट्रंप ने कहा, ‘96% से भी अधिक ट्रम्प न्यूज के सर्च रिजल्ट में राष्ट्रीय वामपंथी मीडिया का हाथ है, जो काफी खतरनाक है। गूगल और अन्य कंपनियां कंजरवेटिव की आवाज दबा रहे हैं और खबरों को छिपा रहे हैं। यह काफी गंभीर बात है, जिस पर गौर किया जाएगा।’  यही नहीं, अमेरिकी प्रेसिडेंट ने आगे लिखा, ‘ये लोग अच्छी खबरों को पाठकों तक पहुंचने नहीं देते हैं। ये लोग इस पर भी नियंत्रण रख रहे हैं कि हम क्या देखें-पढ़ें और क्या नहीं।’ हालांकि ट्रंप के मीडिया और गूगल पर दिए इस बयान की सोशल मीडिया पर काफी आलोचना भी हो रही है। अभिव्यक्ति की आजादी के समर्थकों ने राष्ट्रपति की आलोचना करते हुए कहा कि गूगल सर्च इंजन बहुत सी और चीजों पर भी निर्भर करता है, जिनमें आपकी ब्राउजिंग हिस्ट्री भी शामिल है।

Related Post

गुरुत्‍व तरंगों की खोज के लिए तीन अमेरिकी वैज्ञानिकों को मिलेगा भौतिकी का नोबेल

Posted by - October 3, 2017 0
स्टॉकहोम : अमेरिकी खगोलविज्ञानियों बैरी बैरिश, किप थोर्ने और रेनर वेस को गुरत्व तरंगों की खोज के लिए इस साल का…

राष्ट्रगान के समय बारिश में बिना छतरी के खड़े रहे राष्ट्रपति कोविंद

Posted by - October 9, 2017 0
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद राष्ट्रगान के सम्मान में बारिश में भीगते रहे, लेकिन उन्होंने छाता नहीं लिया. माता अमृतानंदमयी मठ में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *