आजम को अमर सिंह ने दी खुली चुनौती, बोले – ’30 को आऊंगा रामपुर, ले लेना कुर्बानी !’

132 0

लखनऊ। राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने मंगलवार (28 अगस्‍त) को राजधानी में प्रेस कांफ्रेंस कर आजम खान और अखिलेश यादव पर जमकर हमला बोला। साथ ही अमर सिंह ने यह भी कहा कि 2019 के लोकसभा चुनाव में वह खुले तौर पर भाजपा का साथ देंगे, लेकिन वह बीजेपी में शामिल नहीं होंगे।

दो बेटियों के बाप की हैसियत से आया हूं

अमर सिंह ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘मैं बहुत विवादित आदमी हूं। मैं आज यहां किसी दल की तरफ से नहीं, बल्कि नाबालिग मासूम, 17 साल की दो बेटियों के बाप की हैसियत से आया हूं। जो शख्स (आजम खान) मुलायम सिंह का जन्मदिन मनाने के बाद सार्वजनिक बयान देता है कि अबू सलेम और दाऊद हमारे आदर्श हैं और उन्होंने इस जलसे का पैसा दिया है, वह मेरी पत्‍नी को कटवाने और बेटियों पर तेजाब फिंकवाने की बात करता है।’ अमर सिंह ने आजम पर हमला बोलते हुए कहा, ‘आप (आजम खान) की खून की प्यास अभी बुझी नहीं है। मैं 30 अगस्‍त को रामपुर आ रहा हूं, 12  बजे वहां गेस्ट हाउस में रहूंगा। मेरी कुर्बानी ले लीजिए, लेकिन मेरी मासूम बेटियों को छोड़ दीजिए।’

आजम जैसे लोगों की भारत में जगह नहीं

अमर सिंह ने आजम खां को सत्ता के बल पर क्रूर अट्टहास करने वाला दैत्य बताया। उन्होंने कहा, ‘अगर कोई शोध हो तो मुलायम सिंह यादव के दत्तक पुत्र आजम खां को झूठ बोलने का पुरस्कार मिलेगा।’ अमर सिंह ने कहा, ‘आजम ने अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद को अपना आदर्श बताया था। भारत मां को डायन कहा था। ऐसे लोगों को भारत में नहीं रहना चाहिए।’ अमर सिंह ने कहा, ‘आजम खां मुझे अवसरवादी कहता है। हां, मैं अवसरवादी हूं क्योंकि मेरी पत्‍नी राज्यसभा की सदस्य नहीं हैं। हां, मैं अवसरवादी हूं क्योंकि मैंने करोड़ों रुपये का घोटाला कर विश्वविद्यालय नहीं बनाया है।’

सपा पर लगाया परिवारवाद का आरोप

अमर सिंह ने एक बार फिर समाजवादी पार्टी को नमाजवादी पार्टी करार देते हुए उस पर परिवारवाद का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा, ‘लोहियाजी ने पार्टी में अपने परिवार के किसी सदस्य को स्थान नहीं दिया था लेकिन यहां तो पूरी पार्टी ही परिवार से भरी पड़ी है।’ अमर सिंह ने अपने चुटीले अंदाज में कहा, ‘जिस तरह बेटी के जवान होने पर वर ढूंढा जाता है, वैसे ही सपा परिवार में बच्चों के बड़े होने पर क्षेत्र ढूंढा जाता है कि वो कहां से चुनाव लड़ेगा।’ अमर सिंह ने कहा, ‘पहले मुझ पर परिवार तोड़ने के आरोप लगते थे। अब तो मैं उनके परिवार का हिस्सा नहीं हूं, अब एक क्यों नहीं हो जाते ?

अखिलेश पर भी साधा निशाना

राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने अखिलेश यादव पर भी तंज कसा। उन्‍होंने कहा, ‘तीन उपचुनाव क्या जीत गए, हिंदुओं की बेटियों को तेजाब से जलाने का लाइसेंस मिल गया है ? सरकार आई थी तो हिंदू लड़कियां बेइज्जत हुई थीं। सरकार चली गई तो धमकी की प्रक्रिया सिर्फ तीन उपचुनाव से शुरू हो गई।’ अमर सिंह ने अखिलेश यादव द्वारा विष्णु मंदिर बनवाने के बयान पर कहा, ‘कौन हैं विष्णु ? क्या राम विष्णु के अवतार नहीं हैं ? 14 वर्ष के लिए राम वनवास चले गए पिता के कहने से और नमाजवादी पार्टी ने क्या किया ? विष्णु का मंदिर बनाएंगे विष्णु का अपमान करने वाले ?

शिवपाल पर क्‍या बोले अमर ?

शिवपाल यादव पर अमर सिंह ने कहा, ‘मैंने उनके लिए बीजेपी में अच्छे पद के लिए बात की थी, लेकिन वो नहीं गए। अब मेरे उनसे कोई संबंध नहीं हैं।’ अमर सिंह ने कहा, ‘जयाप्रदा के साथ रामपुर में जो हुआ, आज भी वह बोल दे तो आज़म खान जेल चले जाएंगे।’ अमर सिंह ने मुजफ्फरनगर में हुए दंगे को गुजरात में हुए दंगे से ज्यादा भयावह बताया।

Related Post

एक क्लिक से जानिए, क्या है अविश्वास प्रस्ताव, मोदी सरकार को कितना खतरा

Posted by - March 20, 2018 0
नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा न देने से नाराज तेलुगूदेशम पार्टी यानी टीडीपी और आंध्र की…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *