श्रीनगर होटल कांड : कोर्ट ऑफ इंक्‍वायरी में मेजर गोगोई दोषी, होगी कार्रवाई

211 0

नई दिल्ली। श्रीनगर के एक होटल में इसी साल मई महीने में एक महिला के साथ हिरासत में लिये जाने के बाद मेजर लितुल गोगोई के खिलाफ कोर्ट ऑफ इंक्‍वायरी में उन्‍हें दोषी पाया गया है। उनके ख़िलाफ़ अनुशासन की कार्रवाई शुरू करने की सिफ़ारिश की गई है। कोर्ट ने उन्‍हें ड्यूटी के वक्त ऑपरेशनल एरिया से दूर होने और स्थानीय लोगों से घुलने-मिलने का दोषी पाया है।

क्‍या था मामला ?

दरअसल, इसी साल 23 मई को कश्‍मीर में तैनात सेना के मेजर लितुल गोगोई श्रीनगर के होटल ग्रैंड ममता में बडगाम की लड़की के साथ पकड़े गए थे। मेजर गोगोई कथित तौर पर स्थानीय लड़की के साथ होटल में चेक-इन करना चाहते थे। इसी बात को लेकर विवाद हुआ और होटल प्रबंधन ने पुलिस बुला ली थी। पुलिस ने मेजर गोगोई और लड़की को पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया था। आईजी ने मामले की जांच श्रीनगर जोन के एसपी सज्जाद शाह को सौंपी थी, जबकि गोगोई को वापस सेना की बडगाम यूनिट भेज दिया गया था। यह मामला सामने आने के बाद सेना ने इस मामले में कोर्ट ऑफ इंक्‍वायरी का आदेश दिया था। अब कोर्ट ऑफ इंक्‍वायरी में उन्‍हें दोषी पाया गया है। बता दें कि ये वही मेजर गोगोई हैं, जिन्‍होंने पत्‍थरबाजी के दौरान सुरक्षित निकलने के लिए एक शख्‍स को अपनी जीप की बोनट पर बांध लिया था। इसके बाद वे काफी चर्चा में आ गए थे।

क्‍या हो सकती है कार्रवाई ?

सेना के एक वकील का कहना है कि अभी कोर्ट ऑफ इंक्‍वायरी ही पूरी हुई है। इसके बाद समरी ऑफ एविडेंस होगा। उसके बाद अगर मेजर गोगोई को दोषी पाया जाता है, तब उनका कोर्ट मार्शल होगा। कार्रवाई के तहत गोगोई की वरिष्‍ठता घटाई जा सकती है और उनको बर्खास्त भी किया जा सकता है। यही नहीं, उन्‍हें इस मामले में सजा भी सुनाई जा सकती है। इस पूरी कार्रवाई में तीन से छह महीने का वक्‍त लग सकता है।

सेना प्रमुख ने कहा था, दोषी मिले तो होगी कार्रवाई

बता दें कि इस मामले में सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा था, ‘यदि मेजर गोगोई ‘किसी अपराध’ के दोषी पाए जाते हैं तो उन्हें कड़ी सजा दी जाएगी। यह सजा एक मिसाल कायम करेगी।’ जनरल रावत ने कहा था, ‘यदि भारतीय सेना का कोई भी अधिकारी किसी भी अपराध का दोषी पाया जाता है तो हम कड़ी से कड़ी कार्रवाई करेंगे। यदि मेजर गोगोई ने कुछ गलत किया है तो मैं आपको आश्वासन देता हूं कि उन्हें जल्द से जल्द सजा दी जाएगी।’

Related Post

जस्टिस केएम जोसेफ मामले पर सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम आज फिर करेगा बैठक

Posted by - May 11, 2018 0
नई दिल्‍ली। जस्टिस केएम जोसेफ को सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त करने के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट कोलेजियम की शुक्रवार…

IIT कानपुर ने बनाया अनोखा नोजल एयर फिल्टर, फेफड़ों तक नहीं पहुंचने देगी जहरीली हवा

Posted by - November 19, 2018 0
कानपुर। दिवाली के बाद हवा में प्रदूषण फैलने से सांस लेना मुश्किल है। इसी वजह से कई लोग बीमार पड़…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *