लखनऊ की आबोहवा को कम नुकसान पहुंचाती हैं गाड़ियां, दिल्ली की हवा सबसे जहरीली

43 0

कोलकाता। गाड़ियों से निकलने वाले धुएं से शहर प्रदूषित हो रहे हैं। सबसे खराब हालत दिल्ली की है। यहां हर सांस में लोग अपने फेफड़ों में जहर भर रहे हैं। वहीं, यूपी की राजधानी लखनऊ की हालत काफी बेहतर है।

सीएसई ने जारी की रिपोर्ट
दिल्ली स्थित सेंटर फॉर साइंस एंड एनवायरनमेंट यानी सीएसई की ओर से वाहनों की वजह से होने वाले प्रदूषण से जुड़ी रिपोर्ट जारी की गई है। सीएसई ने 14 शहरों में सर्वे के बाद ये रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक दिल्ली में गाड़ियों की वजह से जबरदस्त वायु प्रदूषण है और हवा में पीएम 2.5 के कण हर जगह बहुत मात्रा में मिले हैं।

भोपाल सबसे कम प्रदूषित, दिल्ली सबसे ज्यादा
रिपोर्ट के मुताबिक गाड़ियों से सबसे कम प्रदूषण भोपाल में है। इसके बाद विजयवाड़ा, चंडीगढ़, लखनऊ, कोच्चि, जयपुर, कोलकाता, अहमदाबाद, पुणे, मुंबई, हैदराबाद, बेंगलुरु, चेन्नई और सबसे अंत में दिल्ली का स्थान है। यानी गाड़ियों से प्रदूषण के मामले में दिल्ली की हालत सबसे खराब है। जबकि, चौथे स्थान पर लखनऊ है। ये बताता है कि दिल्ली से काफी बेहतर हालत लखनऊ की है।

ईंधन की खपत में ये अव्वल
सीएसई की रिपोर्ट के अनुसार गाड़ियों से उत्सर्जन और ईंधन की खपत के मामले में कोलकाता की स्थिति सबसे बेहतर है। इसकी वजह ये है कि यहां पब्लिक ट्रांसपोर्ट है, शहर उतने बड़े दायरे में नहीं है, यात्रा में कम दूरी तय करनी होती है और सड़क और पार्किंग के लिए जमीन कम है। जबकि, दिल्ली में कोलकाता और मुंबई से ज्यादा ईंधन की खपत गाड़ियां करती हैं। साफ है कि शहर बड़ा होगा, तो वहां गाड़ियों से प्रदूषण भी ज्यादा होगा।

धुएं से निकलते हैं खतरनाक कण
सीएसई की रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली में कोलकाता के मुकाबले 5 गुना ज्यादा पीएम 2.5 कण पाए गए। मुंबई जैसे महानगर के मुकाबले दिल्ली में पीएम का स्तर 3 गुना ज्यादा मिला।

गाड़ियों की तादाद में बेतहाशा बढ़ोतरी
रिपोर्ट कहती है कि बीते कुछ साल में गाड़ियों की तादाद बेतहाशा बढ़ी है। साल 1951 से 2008 तक यानी 57 साल में भारत में 10.5 करोड़ गाड़ियां थीं। उसके बाद 2009 से 2015 यानी महज 6 साल में ही 10.5 करोड़ गाड़ियां सड़क पर उतरीं। जाहिर है, लोगों की क्रय शक्ति बढ़ने और स्टेटस सिंबल के तौर पर गाड़ियों की खरीद ज्यादा होने लगी है।

Related Post

दलित समुदाय के संत कन्हैया प्रभु बनेंगे महामंडलेश्वर, कुंभ के दौरान मिलेगी उपाधि

Posted by - April 24, 2018 0
इलाहाबाद। देश के कई हिस्सों में आजादी के 70 साल बाद भी भले ही दलितों का उत्पीड़न और शोषण होता…

नेफ्यू रियो ने चौथी बार ली नगालैंड के मुख्यमंत्री पद की शपथ

Posted by - March 8, 2018 0
कोहिमा के लोकल ग्राउंड में हुआ शपथ ग्रहण समारोह, अमित शाह, निर्मला सीतारमण, रिजिजू रहे मौजूद कोहिमा। नगालैंड में गुरुवार…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *