Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

WEF की लिस्ट : भरोसेमंद पुलिस वाले 137 देशों में भारत का नाम नहीं

240 0

लखनऊ। वर्ष 1947 में भारत तो आजाद हो गया, लेकिन उसकी पुलिस आज भी उसी औपनिवेशिक व्यवस्था और मानसिकता को ढो रही है। आज भी पुलिस का कामकाज 1861 में बने कानून के तहत होता है जिसे एक ऐसी औपनिवेशिक पुलिस व्यवस्था तैयार करने के लिए बनाया गया था जो विदेशी शासकों के हितों के लिए जनता को दबा कर रख सके। न तो केंद्र सरकारों ने और न ही राज्य सरकारों ने पुलिस और जेल सुधारों की तरफ थोड़ा भी ध्यान दिया है। 1979 में बने पुलिस सुधार आयोग ने केंद्र सरकार के सामने 8 रिपोर्टें प्रस्तुत कीं लेकिन आज तक उनकी अधिकांश सिफ़ारिशों को अनदेखा किया गया है।

फिनलैंड की पुलिस दुनिया में सबसे ज्‍यादा भरोसेमंद

यूपी के पुलिस महानिदेशक सुलखान सिंह ने अपने रिटायरमेंट के करीब एक महीने पहले एक इंटरव्‍यू में कहा था, ‘आज की पुलिस के मुकाबले औपनिवेशिक ब्रिटिश शासन की पुलिस कहीं बेहतर थी। उनकी यह बात काफी हद तक सही है। अभी हाल ही में वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम (WEF) ने 137 देशों की एक सूची जारी की है, जिसमें बताया गया है कि किस देश की पुलिस कितनी भरोसेमंद है। आपको जानकर आश्‍चर्य होगा कि इस सूची में पाकिस्‍तान और बांग्‍लादेश जैसे देशों के नाम तो हैं, लेकिन इसमें भारत का नाम नहीं है। इस सूची में पहले नंबर पर फिनलैंड का नाम है, जबकि दूसरे नंबर पर स्विटजरलैंड और तीसरे पर सिंगापुर की पुलिस है। इस सूची में पाकिस्‍तान 116वें नंबर पर और बांग्‍लादेश 117वें नंबर पर है।

आइए वर्ल्‍ड इकोनॉमिक फोरम की इस सूची पर डालते हैं एक नजर –

स्रोत : वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (wef)

Related Post

संयुक्त राष्ट्र ने कठुआ गैंगरेप को बताया भयावह, कहा – दोषियों को मिले कड़ी सजा

Posted by - April 14, 2018 0
न्‍यूयॉर्क। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुतेरस ने जम्‍मू-कश्‍मीर के कठुआ में 8 साल की बच्ची के साथ बलात्कार और…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *