अब लंदन में राहुल ने साधा संघ पर निशाना, बोले – ‘RSS की सोच मुस्लिम ब्रदरहुड जैसी’

79 0

लंदन विदेशी धरती से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का मोदी सरकार और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) पर हमला जारी है। जर्मनी के बाद लंदन पहुंचे राहुल गांधी ने इस बार संघ पर सीधा हमला बोला है। उन्‍होंने कहा है कि RSS भारत की संस्थाओं पर कब्जा करना चाहता है और उसकी सोच अरब देशों की ‘मुस्लिम ब्रदरहुड’जैसी है। राहुल ने पीएम मोदी की विदेश नीति पर भी सवाल उठाए।

क्‍या बोले कांग्रेस अध्‍यक्ष ?

लंदन स्थित थिंक टैंक इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट फॉर स्ट्रैटेजिक स्टडीज में शुक्रवार (24 अगस्‍त) को लोगों को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने RSS पर निशाना साधा। राहुल ने कहा, ‘RSS भारत की प्रकृति को बदलने की कोशिश कर रहा है। अन्य पार्टियों ने भारत की संस्थाओं पर कब्जा करने के लिए कभी हमला नहीं किया, लेकिन RSS की सोच अरब देशों की मुस्लिम ब्रदरहुड जैसी है।’ उन्होंने कहा, ‘बीजेपी और आरएसएस के लोग देश को बांटने और नफरत फैलाने का काम कर रहे हैं, वहीं कांग्रेस भारत के लोगों को जोड़ने का काम करती है।’

क्या है मुस्लिम ब्रदरहुड ?

मुस्लिम ब्रदरहुड की स्थापना 1928 में हसन अल-बन्ना ने की थी। यह मिस्र का सबसे पुराना इस्लामिक संगठन है। इस संगठन ने पूरी दुनिया में इस्लामिक आंदोलनों को प्रभावित करने का काम किया है। मिस्र में इस संगठन को अवैध करार दिया जा चुका है, लेकिन इस संगठन ने कई दशक तक सत्ता पर काबिज रहे राष्ट्रपति होस्नी मुबारक को बेदखल करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। ब्रदरहुड का कहना है कि वो लोकतांत्रिक सिद्धांतों का समर्थन करता है और उसका मुख्य मकसद है कि देश का शासन इस्लामी कानून यानी शरिया के आधार पर चलाया जाए।

 कहा, PM के लिए इवेंट है डोकलाम विवाद

कांग्रेस अध्यक्ष ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विदेश नीति पर भी सवाल उठाए हैं। राहुल गांधी ने कहा, ‘पीएम मोदी के लिए डोकलाम विवाद एक इवेंट है। डोकलाम कोई अलग मुद्दा नहीं है। यह एक के बाद एक कई घटनाओं का हिस्सा था। यह एक प्रक्रिया थी। अगर उन्होंने ध्यान से पूरी प्रक्रिया को देखा होता तो वो इसे रोक सकते थे।’ कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि यह हकीकत है कि डोकलाम में आज भी चीन मौजूदगी है।

सत्‍ता के केंद्रीकरण का लगाया आरोप

कांग्रेस अध्‍यक्ष ने पीएम मोदी पर सत्ता के केंद्रीकरण का भी आरोप लगाया। उन्होंने कहा, ‘भारत तभी सफल हुआ, जब सत्ता विकेंद्रीकृत हुई। पिछले चार वर्षों में बड़े पैमाने पर सत्ता का केंद्रीकरण हुआ है। आज सत्ता की पूरी ताकत पीएमओ के पास केंद्रित हो गई है। राहुल ने कहा, ‘भारत में मौजूदा सरकार के बारे में मेरी मुख्य शिकायतों में से एक ये है कि मुझे भारत की ताकत के आधार पर कोई सुसंगत रणनीति नहीं दिख रही है। मुझे केवल तात्कालिक प्रतिक्रियाएं दिखती हैं।’

RSS का पलटवार, कहा – एक बार शाखा में आकर देखें राहुल

कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी के आरोपों पर RSS ने पलटवार किया है। RSS के प्रवक्ता राजीव तुली ने एक न्‍यूज चैनल से बातचीत में कहा, ‘मैं राहुल गांधी के सलाहकारों से कहना चाहता हूं कि राहुल गांधी को एक बार RSS की शाखा में आना चाहिए, उसके बाद उनको देश की आत्मा और देश की संस्कृति का ज्ञान हो जाएगा। राहुल गांधी को प्रणब मुखर्जी से सीखना चाहिए जिन्हें देश की संस्कृति और देश के बारे में ज्ञान है।’ संघ प्रवक्ता ने कहा, ‘राहुल गांधी अगले दो-तीन जन्मों तक देश और संघ को नहीं समझ सकते हैं, इसलिए उन्हें एक बार संघ की शाखा में ज़रूर आना चाहिए। मुझे यकीन है कि राहुल गांधी एक बार संघ की शाखा में आ जाएं, फिर वह संघ छोड़कर नहीं जाएंगे।’

Related Post

OMG : 32 साल में दुनिया के समुद्रों में मछलियों से ज्यादा होगा प्लास्टिक !

Posted by - June 5, 2018 0
नई दिल्ली। आजकल हर जगह प्लास्टिक का बोलबाला है। प्लास्टिक के कैरी बैग, प्लास्टिक के कप, प्लास्टिक से बने खिलौने…

संजीता चानू ने CWG में दिलाया देश को दूसरा गोल्ड, उठाया 192 किलो वजन

Posted by - April 6, 2018 0
गोल्ड कोस्ट। यहां चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स में भारतीय वेटलिफ्टरों का गोल्ड जीतने का सिलसिला जारी है। अब संजीता चानू…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *