भारत के लिए बड़ी उपलब्धि, संयुक्त राष्ट्र से शुरू हुआ हिन्दी में समाचार बुलेटिन

128 0

पोर्ट लुई। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने हिन्दी को संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक भाषा के रूप में मान्यता दिलाने की प्रतिबद्धता व्यक्त करते हुए बताया कि इस अंतरराष्‍ट्रीय संस्था से हिन्दी में समाचार बुलेटिन का प्रसारण शुरू हो गया है। उन्‍होंने बताया कि यूएन में हिन्दी में एक ट्विटर एकाउंट भी बनाया गया है। साथ ही वेबसाइट पर प्रमुख दस्तावेज़ भी हिन्दी में डाल दिए गए हैं।

सप्‍ताह में एक बार प्रसारण

सुषमा स्‍वराज ने मॉरीशस में शनिवार (18 अगस्‍त) को 11वें विश्व हिन्दी सम्मेलन के उद्घाटन के अवसर पर अपने संबोधन में यह जानकारी दी। सुषमा स्वराज ने बताया कि संयुक्त राष्ट्र से अभी हिन्दी में सप्ताहिक समाचार बुलेटिन का प्रसारण शुरू हुआ है। इसका प्रसारण रोजाना भी हो सकता है लेकिन इसके लिए दो वर्ष तक इंतजार करना पड़ सकता है। इस दौरान हिन्‍दी प्रसारण को देखा जाएगा, उसकी रेटिंग तैयार की जाएगी और अगर अच्‍छी प्रतिक्रिया मिली तो इसका दैनिक प्रसारण भी हो सकता है।

ट्विटर हैंडल से हुआ पहला ट्वीट

संयुक्त राष्ट्र के हिंदी ट्विटर हैंडल से पहला ट्वीट भी किया गया है। सुषमा ने कहा कि अब हम हिन्दी भाषी लोगों की जिम्मेदारी है कि इसे बढ़ावा दें। बता दें कि अभी यह हिन्दी समाचार बुलेटिन प्रत्येक शुक्रवार को प्रसारित हो रहा है। विदेश मंत्री ने बताया कि विश्व हिन्दी सचिवालय का स्थायी भवन भी बनकर तैयार हो गया है और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद इसका उद्घाटन कर चुके हैं। इसमें एक स्थायी अधिकारी को नियुक्त किया गया है।

हिन्‍दी को यूएन में दिलाएंगे मान्‍यता : सुषमा

सुषमा स्वराज ने कहा कि हिन्दी को संयुक्त राष्ट्र की आधिकारिक भाषा के रूप में मान्यता दिलाने में अभी कुछ बाधाएं हैं। उन्होंने बताया कि इसके लिए प्रस्ताव को दो तिहाई बहुमत से पारित करने के साथ समर्थन करने वाले सभी सदस्य देशों को इस पर होने वाले खर्च के लिए अंशदान करना होता है। सुषमा ने कहा, ‘हिन्दी को आधिकारिक भाषा का दर्जा दिलाने के लिए संयुक्त राष्ट्र में 129 देशों का समर्थन जुटाना कठिन काम नहीं है। हमने योग दिवस को मान्यता दिलाने में 177 देशों का समर्थन जुटाया है।’ विदेश मंत्री ने कहा, ‘आधिकारिक भाषा के संदर्भ में सदस्य देशों को वोट से समर्थन देने के साथ आर्थिक खर्च भी साझा करना पड़ता है। अगर इसका पूरा खर्च भी हमें देना पड़े, तब भी हम इसके लिए तैयार हैं।’

Related Post

OMG : दिमाग के खास हिस्से को नुकसान पर बढ़ती है सांप्रदायिक भावना !

Posted by - March 26, 2018 0
वॉशिंगटन। आजकल देशभर में सांप्रदायिकता बढ़ने को लेकर चर्चा का दौर चल रहा है। आखिर सांप्रदायिक भावना आती कहां से…

दुनिया के सुरक्षित शहरों में एक भी भारत का नहीं, टॉप पर जापान की राजधानी टोक्यो

Posted by - October 3, 2018 0
लंदन। दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र तो भारत है, लेकिन सुरक्षा के लिहाज से दुनिया में इसकी पहचान कमजोर है।…

केंद्र ने हार्दिक पटेल को दी वाई श्रेणी सुरक्षा, बताया जान को खतरा

Posted by - November 24, 2017 0
गुजरात चुनाव में अहम भूमिका निभाने वाले पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को वाई कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है.…

कर्नाटक : बेल्लारी में बीजेपी को झटका, वोट और प्रचार नहीं कर सकेंगे जनार्दन रेड्डी

Posted by - May 4, 2018 0
नई दिल्ली। कर्नाटक के चुनावी समर में बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है। माइनिंग माफिया के नाम से पहचाने जाने…

कुमारस्वामी की राह में रोड़ा बन सकते हैं भाई रेवन्ना, जा सकते हैं बीजेपी के साथ

Posted by - May 16, 2018 0
बेंगलुरु। जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी भले ही कर्नाटक में कांग्रेस के साथ मिलकर सरकार का मुखिया बनने की कोशिश में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *