Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

अटल बिहारी के संबंध में मोदी सरकार ने लिया है ये बड़ा फैसला

118 0

नई दिल्ली। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी की याद में केंद्र सरकार भव्य स्मारक बनाएगी। ये जानकारी सूत्रों ने दी। साथ ही 6-ए कृष्णमेनन मार्ग स्थित आवास को भी मेमोरियल में बदलने पर विचार हो रहा है।

अंतिम संस्कार स्थल पर बनेगा स्मारक
सूत्रों के मुताबिक अटल बिहारी वाजपेयी के अंतिम संस्कार स्थल पर सैद्धांतिक तौर पर एक भव्य स्मारक बनाने का फैसला हो चुका है। हालांकि, पीएम मोदी की अगुवाई में गुरुवार को हुई कैबिनेट की बैठक में इस बारे में कोई चर्चा नहीं हुई। स्मारक को राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर ही बनाया जाएगा। इस जगह को साल 2013 में राष्ट्रीय स्तर के नेताओं के अंतिम संस्कार स्थल के तौर पर तय किया गया था। बता दें कि महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, संजय गांधी, चौधरी चरण सिंह और जगजीवन राम के समाधि स्थल भी आसपास ही हैं। इन सभी के समाधि स्थल की कुल जमीन 245 एकड़ है। ऐसे में सरकार ने दिल्ली की बेशकीमती जमीन को बचाने के लिए सभी नेताओं के अंतिम संस्कार के वास्ते एक ही जगह तय की थी।

मेमोरियल बन सकता है आवास
अटल बिहारी वाजपेयी को बतौर पूर्व पीएम 6-ए कृष्णमेनन मार्ग का बंगला दिया गया था। सरकार इस बारे में भी गंभीरता से विचार कर रही है कि इस बंगले को अटल बिहारी करा मेमोरियल बना दिया जाए। हालांकि, इसमें अड़चन ये है कि साल 2015 में मोदी सरकार ने ही सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद तय किया था कि लुटयेंस जोन समेत दिल्ली के किसी भी हिस्से में किसी नेता के नाम पर मेमोरियल नहीं बनेगा। ऐसे में सरकार मेमोरियल बनाने के लिए सुप्रीम कोर्ट से मंजूरी की गुजारिश भी कर सकती है।

Related Post

कर्नाटक

कर्नाटक: येदियुरप्पा ने CM पद की ली शपथ, तीसरी बार संभाली राज्य में सत्ता

Posted by - May 17, 2018 0
बेंगलुरु। बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक में सीएम की कुर्सी संभाल ली है। सुबह 9 बजे गवर्नर वजुभाई वाला ने राजभवन…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *