मटन, चिकन नहीं अब टिड्डा खाना शुरू कर दें, फायदे जानकर रह जाएंगे हैरान

505 0

नई दिल्ली। दुनिया भर में अलग-अलग तरह के लोग खाना भी अलग-अलग खाते हैं। लेकिन क्या सच में किसी दिन लोग कीड़े खाने लगेंगे ? इस बारे में कुछ लोगों का कहना है, हां। जिस टिड्डा को देखकर आप मुंह बनाते हैं, आपको जानकर हैरानी होगी कि उसके खाने के बहुत फायदे हैं। एक रिसर्च में यह बात सामने आई है।

टिड्डे में होता है भरपूर प्रोटीन

दूध, पनीर और दही सिर्फ प्रोटीन के अच्छे स्त्रोत हैं। इसके अलावा चिकन, मटन, सुअर में भी बहुत प्रोटीन होता है। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि टिड्डे में बहुत अधिक प्रोटीन होता है। कई देशों में इसे बड़े चाव से खाया जाता है। अगर शरीर में प्रोटीन की कमी है तो टिड्डा खाना बहुत ही फायदेमंद है।

रिसर्च में क्‍या आया सामने

अध्‍ययन के तहत दो सप्ताह तक लगातार 20 लोगों को 25 ग्राम टिड्डा का पाउडर मफिन में और सुबह के शेक में डालकर दिया गया। दो सप्ताह तक उसके मल का डीएनए किया गया। जांच में सामने आया कि मल में पाए जाने वाले एसीटेट कुछ हद तक कम हो गए थे। इससे आंत के माइक्रोबिओम में कोई बदलाव भी नहीं आए थे। इसका मतलब ये कि इससे शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचता है।

इन देशों में लोग खाते हैं कीड़े

दुनिया में ऐसे कई देश हैं जहां लोग कीड़ों को मजे से खाते हैं। इन देशों में थाईलैंड, चीन, नीदरलैंड, घाना, ब्राजील और मेक्सिको आदि शामिल हैं। यहां कीड़ों से कई तरह की रेसिपी भी बनाई जाते हैं। यहां टिड्डे, झींगुर और कई तरह के कीड़े लोग शाम के स्नैक्स में खाना पसंद करते हैं।

Related Post

कश्मीर के पुलवामा और कुपवाड़ा में सुरक्षाबलों ने मार गिराए 4 आतंकी

Posted by - June 29, 2018 0
पुलवामा में मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी, 16 साल के लड़के की मौत श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के पुलवामा और कुपवाड़ा जिले…

अविश्वास प्रस्ताव : शिवसेना ने बदला रुख, पहले जारी समर्थन का व्हिप लिया वापस

Posted by - July 20, 2018 0
नई दिल्ली। मोदी सरकार के खिलाफ विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव पर शिवसेना ने गुरुवार रात अचानक रुख बदल लिया। एनडीए…

महत्वपूर्ण फैसलों का सुप्रीम कोर्ट से होगा सीधा प्रसारण, AG से मांगे सुझाव

Posted by - July 9, 2018 0
राज्यसभा और लोकसभा चैनल की तरह अलग से एक चैनल शुरू करेगी केंद्र सरकार  नई दिल्ली। लोकसभा और राज्‍यसभा की कार्यवाही…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *