इस अनोखे तरीके से अमेरिकियों को बेच दिए 300 बच्चे, जानकर दंग रह जाएंगे आप !

96 0

मुंबई। बच्चों की तस्करी के इस खेल में शातिरों ने ऐसा तरीका अपनाया, जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। अभी तक की जानकारी से पता चला है कि इस शातिराना तरीके से 300 बच्चों को अमेरिकी लोगों को बेच दिया गया। हर बच्चे के लिए जो कीमत वसूली गई, वो तो और हैरतअंगेज है।

पुलिस के हत्थे चढ़े ये लोग

मुंबई पुलिस ने बच्चों की तस्करी के मामले में गुजरात के राजूभाई गमलेवाला, पुलिस अफसर के बेटे आमिर खान, ताजुद्दीन खान, अफजल शेख और रिजवान चोटनी को गिरफ्तार किया है। राजूभाई ने बच्चों को विदेश में बेचने का ये धंधा 2007 में शुरू किया था। इसके लिए वो अमेरिकी नागरिकों से हर बच्चे का 45-45 लाख रुपए में सौदा करता था। जिन बच्चों को अमेरिका भेजा गया, उनके बारे में कोई खबर नहीं है। सभी बच्चों की उम्र 11 से 16 साल के बीच है।

इस तरह करते थे बच्चों की तस्करी

राजूभाई और उसके साथी गुजरात में उन परिवारों को तलाशते थे, जो गरीब होने की वजह से बच्चों को पाल नहीं पाते थे। परिवारों को कुछ पैसे देकर बच्चे खरीद लिये जाते थे। इसके बाद ऐसे लोगों को तलाशा जाता था, जो अपने बच्चे का पासपोर्ट किराए पर दे सकें। फिर पासपोर्ट की फोटो से बच्चे के चेहरे का मिलान करके और जरूरत पड़ने पर थोड़ा मेकअप करके उसे एयरपोर्ट के इमिग्रेशन से बाहर भेज दिया जाता था। बच्चे को अमेरिका ले जाने वाला लौटता, तो वो पासपोर्ट उसके धारक को लौटा देता था।

एक्टर प्रीति सूद ने गिरोह को पकड़वाया

इस मामले का खुलासा एक्टर प्रीति सूद ने किया। प्रीति के मुताबिक, उन्हें फोन आया कि दो नाबालिग बच्चों का मेकअप करना है। प्रीति को लगा कि लड़कियों को वेश्यालय भेजा जाएगा। जब वो मौके पर पहुंचीं, तो तीन लोग दोनों बच्चों के मेकअप के बारे में निर्देश दे रहे थे। इसके बाद उन्होंने पुलिस को खबर दी और चारों को दबोचा गया। इस मामले के मास्टरमाइंड राजूभाई को साल 2007 में पासपोर्ट फर्जीवाड़े के मामले में गिरफ्तार भी किया गया था।

Related Post

इस बीमारी से ग्रस्त हो रही हैं ज्यादातर महिलाएं, बच्चे पैदा करने में होती है दिक्कत

Posted by - August 31, 2018 0
नई दिल्ली। महिलाओं और युवतियों में एक खतरनाक बीमारी घर कर रही है। इस बीमारी की वजह से बच्चे पैदा…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *