जेएनयू के छात्र उमर खालिद पर जानलेवा हमला, फायरिंग में बाल-बाल बचे

154 0

नई दिल्ली।  दिल्ली के  कॉन्‍स्‍टीट्यूशन क्‍लब के बाहर जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (JNU) के छात्र उमर खालिद पर जानलेवा हमले की घटना सामने आई है। उनके ऊपर फायरिंग की गई,  लेकिन गोली किसने चलाई इसकी जानकारी अबतक नहीं मिल पाई है। हालांकि इस हमले में खालिद बाल-बाल बच गए।

क्‍या है मामला ?

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक उमर ख़ालिद रफ़ी मार्ग पर एक चाय की दुकान पर बैठे थे। तभी सफेद कमीज़ पहने एक शख़्स ने आकर उमर ख़ालिद को धक्का दिया और गोली चला दी। धक्‍का देने से ख़ालिद गिर पड़े, जिससे गोली उन्हें नहीं लगी। इस हमले में उमर खालिद को कोई नुकसान नहीं हुआ है। बता दें कि संसद भवन के पास का ये इलाक़ा दिल्ली के सबसे सुरक्षित इलाक़ों में गिना जाता है। बताया जा रहा है कि ख़ालिद कांस्टीट्यूशन क्लब में ‘खौफ़ से आज़ादी’ नाम के एक कार्यक्रम में शामिल होने आए थे।

कुछ दिनों पहले मिली थी धमकी

बता दें कि कुछ दिनों पहले ही खालिद को जान से मारने की धमकी दी गई थी। फोन पर धमकी देने वाले ने खुद को फरार गैंगस्टर रवि पुजारी बताया था। इस फोन कॉल के बाद उमर खालिद ने पूरे मामले का जिक्र करते हुए ट्वीट किया था और सुरक्षा की मांग की थी। पुलिस इस मामले की जांच कर रही थी। इसी कड़ी में दलित नेता और गुजरात से निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी ने आरोप लगाया था कि उन्हें भी रवि पुजारी की तरफ से जान से मारने की धमकियां मिली हैं।

कौन हैं उमर खालिद ?

उमर ख़ालिद जेएनयू के छात्र नेता हैं, जिनके ऊपर विश्वविद्यालय के अंदर भारत विरोधी नारे लगाए जाने के आरोप लगे थे।  आरोप है कि अफजल गुरु की बरसी पर जेएनयू के साबरमती ढाबे पर आयोजित कार्यक्रम में डेमोक्रेटिक स्टूडेंट यूनियन (डीएसयू) के छात्रनेता उमर खालिद ने भी देशविरोधी नारे लगाए थे। इस मामले में फरवरी, 2016 में जेएनयू के छात्र नेता कन्हैया कुमार और अनिर्बान भट्टाचार्य के साथ उमर खालिद को भी गिरफ़्तार किया गया था।

 

Related Post

…जब प्रेसिडेंट ट्रंप ने किम जोंग को दिखाई अपनी लिमोजिन कार

Posted by - June 14, 2018 0
अमेरिकी राष्ट्रपति के पास है दुनिया की सबसे सुरक्षित कार, न्यूक्लियर अटैक से भी बचा सकती है जान सिंगापुर। अमेरिका…

स्कॉटलैंड की महिला ने खोला 109 साल तक जिंदा रहने का राज…

Posted by - May 30, 2018 0
 दिल्ली। आज अगर कोई 100 साल से ज्यादा जीवित रह जाए तो उसे काफी भाग्यशाली माना जाता है। स्कॉटलैंड में रहने वाली Jessie Gallan  की जब…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *