अरुण शौरी और यशवंत सिन्‍हा बेरोजगार !

51 0
  • राफेल मुद्दे पर बोले अमित शाह – ‘आप रक्षामंत्री पर भरोसा करेंगे या उन पर, जिन्हें मंत्री पद नहीं मिला

 

नई दिल्ली। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण शौरी और यशवंत सिन्हा द्वारा राफेल सौदे को लेकर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोप को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि रक्षा मंत्री के बयान पर विश्वास किया जाना चाहिए ना कि उन लोगों पर ‘जिन्हें काम नहीं मिला’।  इसके साथ ही भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि सरकार विपक्ष के आरोपों के बाद इस मामले में पहले ही स्थिति साफ कर चुकी है। 

क्‍या बोले भाजपा अध्‍यक्ष

अमित शाह ने कहा, ‘रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया था कि मोदी सरकार ने बातचीत के बाद राफेल लड़ाकू विमान का जो आधार मूल्य तय किया, वह  यूपीए सरकार द्वारा तय की गई कीमत से कम है।’ बता दें कि भाजपा अध्‍यक्ष ये बातें यहां एक्सिस माई इंडिया कंपनी के चेयरमैन सह प्रबंध निदेशक प्रदीप गुप्ता द्वारा लिखी किताब ‘ब्लू प्रिंट फॉर एन इकोनॉमिक मिरेकल’ का विमोचन करने के बाद एक इंटरव्‍यू में कहीं।

क्‍या कहा था शौरी व यशवंत सिन्‍हा ने

अटल बिहारी वाजपेयी की राजग सरकार में मंत्री रहे अरुण शौरी व यशवंत सिन्हा और वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता प्रशांत भूषण ने बुधवार को एक प्रेस कांफ्रेंस में दावा किया था कि राफेल सौदे से जुड़ा कथित घोटाला बोफोर्स कांड से कहीं ज्यादा बड़ा है। उन्‍होंने कहा कि इस सौदे में 35 हजार करोड़ रुपये का घोटाला हुआ है, जो 64 करोड़ रुपये के बोफोर्स घोटाले से कहीं ज्‍यादा है। उन्होंने मांग की कि सौदे की जांच एक निर्धारित समय में कैग द्वारा कराई जानी चाहिए। तीनों लोगों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर अकेले ही सौदे से जुड़े मानकों को बदलने का आरोप लगाया और कहा कि सौदे को अंतिम रूप में देने में आवश्यक प्रक्रियाओं का गंभीर उल्लंघन किया गया। उन्होंने आरोप लगाया कि‘पूरा सौदा आपराधिक कदाचार, सार्वजनिक पद के दुरुपयोग और राष्ट्रीय हित तथा राष्ट्रीय सुरक्षा की कीमत पर पक्षों को संपन्न बनाने का अनूठा मामला है।’ तीनों लोगों ने कहा कि सरकार ने तथ्यों को ‘छिपाने’ का प्रयास किया।

सरकार में अकेले ही लिये जा रहे फैसले : सिन्‍हा

एक अन्‍य कार्यक्रम में यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी ने प्रधानमंत्री कार्यालय में सत्‍ता के केंद्रीकरण को लेकर निशाना साधा। उन्‍होंने दावा किया कि राजग सरकार में निर्णय ‘अकेले’ ही लिये जा रहे हैं। उन्होंने राजनाथ सिंह का नाम लिये बिना दावा किया कि गृह मंत्री को जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के साथ गठबंधन से हटने के भाजपा के निर्णय के बारे में जानकारी भी नहीं थी।

एक न्‍यूज एजेंसी के अनुसार, यशवंत सिन्हा ने कहा कि इसी तरह वित्त मंत्री को जानकारी नहीं थी कि नोटबंदी की घोषणा होने जा रही है।

शाह ने विपक्षी एकता पर कसा तंज

बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने विपक्षी एकता पर फिर तंज कसा। शाह ने कहा, ‘भले ही मोदी सरकार के खिलाफ विपक्षी एकजुटता के बड़े-बड़े दावे किए जा रहे हैं और बार-बार कहा जा रहा है कि मोदी सरकार के लिए चुनौती मिलने वाली है लेकिन अविश्वास प्रस्ताव और राज्यसभा उपसभापति चुनाव में जो हुआ, वह सबने देखा है।’

समय पर ही होंगे लोकसभा चुनाव

भाजपा अध्यक्ष ने फिर दोहराया – ‘पार्टी 2019 के लोकसभा चुनाव में 2014 की तुलना में बड़ी जीत दर्ज करेगी। लोगों ने अपना मन बना लिया है। हम अपनी जीत पर कोई संदेह नहीं है।’उन्‍होंने लोकसभा चुनाव पहले कराने की अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि चुनाव अपने निर्धारित समय पर ही होंगे। साथ ही उन्होंने दावा किया कि भाजपा इस साल के अंत में होने वाले राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में भी जीत हासिल करेगी। उन्होंने 2019 के लोकसभा में चुनाव में पश्चिम बंगाल की 42 में से 22 से ज्यादा सीटों पर जीत हासिल

Related Post

भाजपा नेता अमू बोले – अब मेरा सपना लाल चौक पर फारुक अब्दुल्ला को मारूं थप्पड़

Posted by - November 29, 2017 0
दीपिका के सिर पर 10 करोड़ का इनाम रखने वाले बीजेपी नेता सूरजपाल अमू ने दिया पद से इस्तीफा चंडीगढ़।…

दुनिया से छंटा तीसरे विश्व युद्ध का खतरा, किम परमाणु कार्यक्रम रोकने को तैयार

Posted by - June 12, 2018 0
डोनाल्‍ड ट्रंप बोले – दुनिया की सबसे बड़ी और खतरनाक समस्या का निकल गया समाधान   सिंगापुर। कभी कट्टर दुश्मनों…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *