खिलजी के बाद फिर नेगेटिव रोल में रणबीर सिंह, इस फिल्म में बनेंगे औरंगजेब

82 0

मुंबई। बाजीराव मस्तानी और पद्मावत जैसी फिल्में करने वाले रणबीर सिंह को लगता है इतिहास से इश्क हो गया है। बाजीराव मस्तानी में वो पेशवा बने थे। पद्मावत में उन्होंने दिल्ली के शासक अलाउद्दीन खिलजी के तौर पर विलेन का रोल किया था। अब वो फिर विलेन बनने जा रहे हैं। इस बार रणबीर सिंह बनने जा रहे हैं औरंगजेब। वो औरंगजेब, जिसे हिंदुओं पर अत्याचार करने वाले मुगल शासक के तौर पर इतिहास की किताबों में जगह मिली है।

इस फिल्म में रणबीर बनेंगे औरंगजेब
बीते कुछ साल से ऐतिहासिक घटनाओं पर फिल्में बनाने का ट्रेंड बॉलीवुड में चल पड़ा है। इसी कड़ी में प्रोड्यूसर-डायरेक्टर करन जौहर अब ‘तख्त’ नाम से फिल्म बनाने जा रहे हैं। इस फिल्म में दिखाया जाएगा कि औरंगजेब ने किस तरह गद्दी के वारिस दारा शिकोह को हराकर उनका कत्ल किया। दारा शिकोह का रोल किसे मिलने जा रहा है, वो अभी तय नहीं हुआ है।

औरंगजेब ने कहां दारा शिकोह को हराया था ?
बता दें कि शाहजहां औरंगजेब ने अपने छोटे भाई मुराद बख्श के साथ मिलकर साल 1658 में दिल्ली पर धावा बोला था। तब वहां औरंगजेब के बड़े भाई दारा शिकोह शासन कर रहे थे। वजह ये थी कि शाहजहां बहुत बीमार थे। औरंगजेब और मुराद की सेना का सामना करने के लिए दारा शिकोह ने सेना तैयार की और दिल्ली से आगरा की ओर चले। धरमत में औरंगजेब से हारने के बाद आगरा से 10 मील दूर सामूगढ़ में दारा और औरंगजेब की सेनाओं के बीच फिर युद्ध हुआ और 29 मई 1658 को दारा शिकोह की हार हुई और औरंगजेब ने भाई दारा और उनके बेटे की हत्या कर दिल्ली के तख्त पर कब्जा कर लिया। जिसके बाद उसने शाहजहां को गिरफ्तार कर आगरा के किले में भेज दिया। जहां अपनी पत्नी मुमताज महल के मकबरे ताजमहल को देखते हुए शाहजहां ने दम तोड़ दिया था।

Related Post

अमेरिका ने 60 रूसी राजनयिकों को निकाला, सिएटल का दूतावास बंद

Posted by - March 26, 2018 0
जर्मनी, फ्रांस समेत पांच यूरोपियन देशों ने भी रूसी राजनयिकों को बाहर का रास्ता दिखाया वॉशिंगटन। जासूस सर्गेई स्क्रिपल को…

केंद्र ने हार्दिक पटेल को दी वाई श्रेणी सुरक्षा, बताया जान को खतरा

Posted by - November 24, 2017 0
गुजरात चुनाव में अहम भूमिका निभाने वाले पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को वाई कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराई गई है.…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *