Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

11 अगस्त को पड़ेगा इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण, जानिए क्‍या होगा खास

146 0

नई दिल्‍ली। इस साल का आखिरी सूर्य ग्रहण 11 अगस्त को पड़ेगा। इससे पहले 2018 में 15 फरवरी और 13 जुलाई को सूर्य ग्रहण लगा था। हालांकि यह सूर्य ग्रहण आंशिक होगा और इसे भारत में नहीं देखा जा सकेगा। इसे नॉर्थ अमेरिका, नॉर्थ पश्चिमी एशिया, साउथ कोरिया, मास्को, चीन जैसे कई देशों के लोग देख पाएंगे।

5 घंटे का होगा सूर्यग्रहण

11 अगस्त को लगने वाले सूर्य ग्रहण की अवधि की बात करें तो यह जो दोपहर 1:32:08 बजकर से शुरू होकर शाम 5 बजकर 40 सेकेंड पर खत्म होगा। सूर्य ग्रहण का मध्य का समय दोपहर 3:16:24 बजे होगा। इस प्रकार सूर्य ग्रहण की कुल समयावधि तकरीबन पांच घंटे तक रहेगी। लंदन में सूर्यग्रहण सुबह 9 बजकर 2 मिनट पर शुरू होगा। सूर्य ग्रहण का सूतक काल 12 घंटे पहले 10 अगस्त की देर रात 1 बजकर 32 मिनट पर शुरू हो जाएगा।

किन राशियों के लिए अशुभ ?

ज्‍योतिषियों का कहना है कि इस सूर्य ग्रहण का असर विभिन्न राशियों के जातकों पर अलग अलग देखने को मिलेगा। यह सूर्य ग्रहण जिन राशियों के लिए शुभ रहने वाला है वह हैं – मेष, मकर, तुला और कुंभ राशि। वहीं कर्क, मिथुन, और सिंह राशि के जातकों के लिए यह सूर्य ग्रहण अशुभ प्रभाव लेकर आएगा।

क्या होता है सूर्य ग्रहण ?

पृथ्वी अपनी धुरी पर घूमने के साथ-साथ सूर्य के चारों ओर भी चक्कर लगाती है। दूसरी ओर, चंद्रमा जो पृथ्वी का उपग्रह है, उसके चक्कर लगता है। जब भी चंद्रमा चक्कर काटते-काटते सूर्य और पृथ्वी के बीच आ जाता है, तब पृथ्वी पर सूर्य आंशिक या पूर्ण रूप से दिखना बंद हो जाता है। इसी घटना को सूर्य ग्रहण कहा जाता है।

2019 में पड़ेंगे 3 सूर्य ग्रहण

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा के अनुसार, वर्ष 2018 की ही तरह साल 2019 में भी 3 सूर्य ग्रहण पड़ेंगे। 2019 में पहला सूर्य ग्रहण 6 जनवरी को, दूसरा 2 जुलाई को और तीसरा सूर्य ग्रहण 26 अगस्त को पड़ेगा। इस साल दिसंबर महीने में चंद्र ग्रहण लगेगा, जिसका असर भारतवासियों पर पड़ेगा।

सूर्य ग्रहण के दौरान करें इन मंत्रों का जाप

सूर्य ग्रहण के दुष्‍प्रभाव को कम करने के लिए इस दौरान सूर्य मंत्र, गायत्री मंत्र और महामृत्‍युंजय मंत्र का जाप करना चाहिए।

सूर्य मंत्र : ॐ घृणि सूर्याय नम:।।
गायत्री मंत्र : ॐ भूर्भुवः स्वः तत्सवितुर्वरेण्यं भर्गो देवस्य धीमहि धियो यो नः प्रचोदयात्।।
महामृत्‍युंजय मंत्र : ॐ त्रयंबकं यजामहे, सुगन्धि पुष्टिवर्द्धनं, उर्वारुक्मिाव, बंधनात्, मृत्‍योंर्मुचीय मामृतात्।।

सूर्य ग्रहण के समय न करें ये 4 काम

प्राचीन मान्‍यताओं के अनुसार ग्रहण के समय कुछ काम ऐसे हैं जिन्‍हें करना वर्जित है –

  • मान्‍यता के अनुसार, इस दौरान पूजा-पाठ और मूर्ति पूजा नहीं करनी चाहिए।
  • मान्‍यता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान तुलसी और शामी के पौधे को नहीं छूना चाहिए।
  • ग्रहण काल के दौरान खाना खाने और पकाने की मनाही होती है।
  • मान्‍यता है कि ग्रहण के दौरान सोना नहीं चाहिए।

Related Post

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस को बड़ा झटका, अजित जोगी की पार्टी संग मिलकर चुनाव लड़ेगी BSP

Posted by - September 20, 2018 0
मायावती ने कहा – जनता कांग्रेस के अध्‍यक्ष अजीत जोगी ही होंगे गठबंधन के मुख्‍यमंत्री का चेहरा रायपुर। छत्तीसगढ़ में…

पूरी हुई पॉर्न स्टार नताशा की भारतीय मर्द पाने की तलाश, ये 4 पूरी करेंगे इच्छा !

Posted by - May 19, 2018 0
न्‍यूयॉर्क। अमेरिकन पोर्न स्टार नताशा नाइस इन दिनों अपने एक ट्वीट के चलते चर्चा में आ गई हैं। हाल ही में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *