तमिलनाडु की राजनीति में एक युग का अंत, नहीं रहे DMK चीफ करुणानिधि

67 0
  • 94 साल की उम्र में चेन्‍नई के कावेरी अस्‍पताल में ली अंतिम सांस, समर्थकों का रो-रोकर बुरा हाल

चेन्‍नई। डीएमके पार्टी के अध्यक्ष और तमिलनाडु के पूर्व मुख्‍यमंत्री एम. करुणानिधि का मंगलवार (7 अगस्‍त) शाम 6.10 बजे निधन हो गया। वह 94 साल के थे। उन्‍होंने चेन्‍नई के कावेरी अस्‍पताल में आखिरी सांस ली। उनके निधन के साथ ही तमिलनाडु की राजनीति में एक युग का अंत हो गया। करुणानिधि के पार्थिव शरीर को उनके आवास गोपालपुरम ले जाया जाएगा, जहां बुधवार सुबह राजाजी हॉल में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा। करुणानिधि के निधन पर राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शोक जताया है। 

28 जुलाई को अस्‍पताल में हुए थे भर्ती

करुणानिधि का ब्लड प्रेशर लो हो जाने के बाद 28 जुलाई की रात उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन उनकी हालत में सुधार नहीं हो पाया। बता दें कि कावेरी अस्पताल ने शाम 4.30 बजे मेडिकल बुलेटिन जारी कर बताया था कि करुणानिधि की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है। तमाम कोशिशों के बावजूद उनके अंग ठीक से काम नहीं कर रहे थे। करुणानिधि की तबियत और बिगड़ने की खबर आने के बाद से उनके आवास गोपालपुरम और चेन्नई के कावेरी अस्पताल के बाहर उनके हजारों समर्थक जुट गए थे। डीएमके समर्थकों की संख्या को देखते हुए पुलिस हाई अलर्ट पर है।

चेन्नई के कावेरी अस्पताल के बाहर उमड़ी समर्थकों की भीड़

सियासी गलियारों में शोक की लहर

करुणानिधि के निधन की खबर मिलते ही राजनीतिक गलियारों में शोक की लहर दौड़ गई है। क्‍या समर्थक और क्‍या विरोधी,  सभी उनके निधन पर गमगीन हैं। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी, दिल्‍ली के सीएम अरविंद केजरीवाल, भाजपा नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी, कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला समेत अनके नेताओं ने करुणानिधि के निधन पर दुख जताया है। राहुल गांधी ने कहा कि देश ने एक बेटा खो दिया है। दक्षिण के सुपरस्‍टार रजनीकांत ने भी डीएमके प्रमुख के निधन पर शोक जताया है। उन्‍होंने कहा, ‘ये काला दिन मैं कभी नहीं भूल पाऊंगा।’

एम करुणानिधि : 80 साल के कॅरियर में कभी नहीं हारे चुनाव, 5 बार रहे सीएम

प्रदेश में 7 दिन के राजकीय शोक की घोषणा

करुणानिधि के निधन पर तमिलनाडु सरकार ने पूरे प्रदेश में 7 दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। प्रधानमंत्री मोदी करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने बुधवार को चेन्‍नई जाएंगे। उधर, तमिलनाडु सरकार ने सभी सरकारी कार्यक्रमों पर अगले दो दिनों के लिए रोक लगा दी है। वहीं तमिलनाडु बॉर्डर सहित कर्नाटक के कई जिलों में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है। एडीजीपी (लॉ एंड ऑर्डर) कमल पंत ने इन जिलों के एसपी को निर्देश जारी किए हैं। बेंगलुरु सिटी पुलिस भी हाई अलर्ट पर है।

बेटी सेल्‍वी गोपालपुरम पहुंचीं

करुणानिधि की बेटी और डीएमके नेता कनिमोई रोती हुई कावेरी अस्पताल पहुंचीं। डीएमके चीफ करुणानिधि की बेटी सेल्वी भी गोपालपुरम के आवास पर पहुंच गई हैं। कनिमोई की तरह वह भी रोती हुई पहुंचीं। बता दें कि डीएमके नेता करुणानिधि के चार बेटे एमके स्टालिन, एमके अलागिरी, एमके मुत्थु और एमके थामिझारसु और दो बेटियां कनिमोई और सेल्वी हैं।

अस्‍पताल के बाहर अफरातफरी

करुणानिधि के निधन की खबर मिलने के बाद कावेरी अस्पताल के बाहर अफरातफरी का माहौल है। वहां मौजूद डीएमके के हजारों समर्थक रो रहे हैं। करुणानिधि के निधन की खबर सुनने के बाद वहां और समर्थकों के पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है। तमिलनाडु सरकार ने शराब बेचने वाली तमिलनाडु स्टेट मार्केटिंग कॉरपोरेशन (TASMAC) की सभी दुकानें शाम 6 बजे से बंद करने को कह दिया है। तमिलनाडु के सभी थिएटर भी बंद हो गए हैं।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *