जानिए कहां है दुनिया की सबसे बड़ी फैमिली, जिसमें हैं 181 सदस्य

145 0

आइजोल। एक तरफ जहां देश में संयुक्त परिवार की परम्‍परा टूट रही है और एकल परिवारों की संख्‍या बढ़ रही है। ऐसे में अगर पता चले कि कोई ऐसा भी संयुक्‍त परिवार है जिसमें कुल 181 सदस्‍य हैं और सभी एक छत के नीचे रहते हैं तो संभवत: यह आपके लिए अचरज वाली बात होगी। जी हां, यह बात सही है और मिजोरम में एक ऐसा परिवार है,  जिसे दुनिया की सबसे बड़ी फैमिली माना जा रहा है। परिवार के सदस्य 100 कमरों के मकान में एक साथ रहते हैं। वास्‍तव में एक ही छत के नीचे इतने बड़े परिवार का एक साथ रहना आश्चर्य के साथ-साथ एक सुखद एहसास से भी भर देता है।

कहां रहता है ये परिवार ?

मिजोरम में खूबसूरत पहाड़ियों के बीच राजधानी आइजोल से 70 किमी दूर बटवंग गांव में अपने बेटों के साथ बढ़ई का काम करने वाले जियोना चाना का परिवार रहता है। करीब 75 वर्षीय जियोना के परिवार में कुल 181 सदस्‍य हैं, जो 100 कमरों वाले एक बड़े से मकान में रहते हैं। इस घर का नाम ‘छौन थर रन’ (New Generation Home) है। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड में दर्ज इस परिवार के सदस्य अपने आप में पूरा गांव हैं। जियोना दुनिया के इस सबसे बड़े परिवार के मुखिया होने पर खुद को गौरवान्वित महसूस करते हैं और परिवार को बड़े अनुशासन से चलाते हैं। परिवार में सब लोग बड़ी खुशी से रहते हैं और खाना बनाने से लेकर घर के अन्य कामकाज सभी मिलकर करते हैं। कपड़े धोने का काम परिवार के सभी सदस्‍य मिल-जुलकर करते हैं।

100 कमरों वाला बड़ा मकान, जिसमें रहता है जियोना चाना का परिवार

कौन-कौन हैं परिवार में ?

जियोना चाना अपनी 39 पत्नियों के साथ इस बड़े से मकान में रहते हैं। 181 सदस्‍यों वाले उनके परिवार में 94 बच्‍चे, 14 बहुएं और 33 पोते-पोतियों के अलावा एक नन्‍हा पड़पोता भी है। जियोना की सबसे युवा बीवी 33 साल की सिमथांगी हैं। उनसे उनकी शादी वर्ष 2000 में हुई थी। वहीं जियोना की सबसे बड़ी पत्‍नी की उम्र 74 साल है। सभी पत्नियां 100 कमरों में बने 5 डॉर्मेट्री में सोती हैं। जियोना के पास किंग साइज डबल बेडरूम है, जिसमें वह अपने साथ सोने के लिए रोज एक पत्नी का चुनाव करते हैं। इतनी उम्र होने के बाद भी वह कहते हैं कि अगर भगवान की मर्जी हुई तो वे फिर शादी करेंगे।

जानते हैं, रोज कितना पकता है खाना !

परिवार में कोई फंक्‍शन हो तो डेढ़-दो सौ लोगों को खाना बनाना और खिलाना बहुत बड़ा काम माना जाता है, लेकिन जियोना के परिवार में तो रोज एक बारात के बराबर भोजन बनता है। आपको सहसा यकीन नहीं होगा कि एक आम परिवार में महीनेभर में जितना राशन लगता है, जियोना के परिवार में उतना एक दिन में इस्‍तेमाल हो जाता है। उनके परिवार में रोज 40 किलो चावल, 40 मुर्गियां, 24 किलो दाल, 50 किलो सब्जियां एक दिन के खाने में इस्तेमाल होती हैं। अगर परिवार का मन बीफ खाने का हो तो उस दिन 10 बड़े जानवर तो पकाने ही पड़ते हैं। इसके अलावा परिवार में रोज लगभग 20 किलो फल की भी खपत है। जियोना की पत्नियां खाना बनाती हैं तो बेटियां घर का काम देखती हैं। जियोना के यहां डाइनिंग हॉल में 50 टेबल लगे हैं। जियोना खाने की टेबल पर अपनी सबसे युवा पत्नियों के साथ बैठते हैं। बुजुर्ग पत्नियां उनसे दूर दूसरे हिस्सों में बैठती हैं। बुजुर्ग पत्नियां खुद युवा पत्नियों के लिए रास्ता खाली कर देती हैं।

चुनाव के दौरान रहता है परिवार का दबदबा

इस इलाके की सियासत में भी जियोना चाना परिवार का काफी महत्व है। एक साथ एक ही परिवार में इतने बड़ी संख्‍या में वोट होने की वजह से तमाम नेता और इलाके की राजनीतिक पार्टियां जियोना चाना को काफी तवज्जो देती हैं। जियोना के परिवार की महिलाएं खेती करती हैं और घर चलाने में योगदान देती हैं। जियोना की सबसे बड़ी पत्नी मुखिया की भूमिका निभाती हैं और घर के सभी सदस्यों के कार्यों का बंटवारा करने के साथ ही कामकाज पर नजर भी रखती हैं।

Related Post

चलती ट्रेन की बोगी में घुसी पटरी, एक यात्री की मौत, दो घायल

Posted by - April 14, 2018 0
हटिया से गोरखपुर आ रही मौर्य एक्‍सप्रेस में हुआ अजीबोगरीब हादसा लखीसराय। बिहार के लखीसराय जिले में शनिवार को मौर्य एक्‍सप्रेस…

यूनिटेक के डायरेक्टरों की संपत्ति बेचकर घर खरीदने वालों को लौटाएं पैसा : सुप्रीम कोर्ट

Posted by - August 23, 2018 0
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने दिल्‍ली हाईकोर्ट के पूर्व न्‍यायाधीश एसएन ढींगरा की अध्‍यक्षता वाले पैनल को निर्देश दिया है कि…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *