महराजगंज में बनाई जा रही थी नकली कोल्डड्रिंक, पुलिस ने सील की फैक्ट्री

102 0
  • फूड डिपार्टमेंट और पुलिस ने संयुक्त रूप से मारा छापा, मौके से फरार हुए फैक्‍ट्री संचालक और कर्मचारी

शिवरतन कुमार गुप्ता राज़

महराजगंज। शहर के इस्लामिया महाविद्यालय परिसर में कोतवाली पुलिस और खाद्य विभाग ने संयुक्‍त रूप से छापेमारी कर नकली कोल्‍डड्रिंक की फैक्‍ट्री का भंडाफोड़ किया है। असली के नाम पर नकली कोल्‍डड्रिंक बेचकर धन के लोभी फैक्‍ट्री संचालक आम लोगों की जिंदगी से खिलवाड़ कर रहे थे। फैक्‍ट्री को सील कर दिया गया है। फिलहाल पुलिस फैक्ट्री मालिकों की तलाश कर रही है। बता दें कि जिले में नकली कोल्डड्रिंक्स बनाने का यह हाल का सबसे बड़ा मामला है।

नकली कोल्डड्रिंक की फैक्ट्री से बरामद उपकरण

लंबे समय से चल रहा था कारोबार

बताया जा रहा है कि मीठे जहर का यह कारोबार लंबे समय से चल रहा था। यहां अवैध ढंग से नकली कोल्ड ड्रिंक्स बनाई जा रही थी  और उसके ऊपर असली का लेबल लगाकर बाजार में धड़ल्ले से बेचा जा रहा था। कोतवाली पुलिस और खाद्य विभाग ने फैक्‍ट्री से बड़ी मात्रा में नकली कोल्डड्रिंक्स और उपकरण बरामद किए हैं। फैक्ट्री को सील कर दिया गया है।

महाविद्यालय परिसर में चल रही थी फैक्‍ट्री

चौंकाने वाली बात यह भी है कि असली कोल्डड्रिंक के नाम पर स्वीट प्वायजन (नकली कोल्डड्रिंक) बनाने का यह अवैध कारोबार शहर के इस्लामियां महाविद्यालय परिसर में ही किया जा रहा था। जहर के कारोबारी विद्या के इस पवित्र मंदिर की आड़ में अपनी घिनौनी करतूत को अंजाम दे रहे थे। यह एक तरह से इस्लामिया डिग्री कॉलेज को भी बदनाम करने की साजिश थी।

छापे से पहले ही फरार हुए कर्मचारी

फ़ूड इंस्पेक्टर अमित पांडेय और श्यामदेउरवा थाने के एसआई शमशाद अंसारी की टीम ने जब फैक्‍ट्री में छापेमारी की तो वहां काम करने वाले सभी लोग मौके से फरार मिले। छापेमारी के दौरान फैक्ट्री संचालकों समेत कर्मचारियों का मौके से फरार होना भी किसी बड़ी मिलीभगत की तरफ इशारा कर रहा है। इससे यह शक गहरा गया है कि संभवत: अवैध काम करने वालों को इस छापेमारी की जानकारी पहले ही दे दी गई थी।

क्‍या मिला छापेमारी में ?

छापेमारी के दौरान टीम ने एक पैकिंग मशीन, एक रिफिलिंग मशीन, एयर मशीन, 40 भरे हुए पाउच टीम बरामद किए हैं। छापा मारने वाली टीम ने फैक्ट्री से कई ऐसी चीजें भी बरामद कीं, जिनको कोल्डड्रिंक्स में मिलाया जाता था। कुछ ऐसी चीजें भी बरामद की गईं जिनका इस्‍तेमाल लोगों की सेहत के लिए खतरनाक होता है। फैक्ट्री का गोदाम भी टीम ने सील कर दिया है।

Related Post

भारत में खुला स्वीडन की इस दिग्‍गज कंपनी का पहला स्‍टोर, बेचेगी 7500 प्रोडक्ट

Posted by - August 9, 2018 0
आईकिया ने 1,000 करोड़ रुपए खर्च किए हैदराबाद के इस स्टोर पर, अगले साल ई-कॉमर्स में भी उतरेगी हैदराबाद। स्वीडन की…

अफगानिस्तान में 6 भारतीय इंजीनियरों का अपहरण, तालिबान पर शक

Posted by - May 6, 2018 0
अगवा इंजीनियरों की रिहाई के लिए भारतीय विदेश मंत्रालय अफगान अधिकारियों के संपर्क में उत्तरी बाग़लान प्रांत की राजधानी के…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *