असम की तरह अगर आपके राज्य में बनी NRC, तो दिखाने होंगे ये दस्तावेज

249 0

नई दिल्ली। असम में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (NRC) में 40 लाख लोगों के नाम न होने को लेकर संसद से सड़क तक हंगामा मचा है। एनआरसी बनाने वाले सरकारी अफसरों के मुताबिक, 40 लाख 7 हजार 707 लोग नागरिकता से संबंधित दस्तावेज नहीं दिखा सके, जिसकी वजह से इनका नाम फाइनल ड्राफ्ट से बाहर रखा गया। माना जा रहा है कि पड़ोसी देशों के घुसपैठियों को तलाशने के लिए इसी तरह देश के सभी राज्यों में एनआरसी बनाने की तैयारी केंद्र सरकार कर सकती है। ऐसे में आपके लिए जानना जरूरी है कि कौन से वो दस्तावेज हैं, जिनसे आप नागरिक होने का दावा कर सकते हैं।

ये दस्तावेज नागरिकता का होते हैं सबूत

  • जमीन-जायदाद से जुड़े कागजात
  • दूसरे देश से आए हैं, तो केंद्र से मिला नागरिकता का प्रमाणपत्र
  • जन्म से एक ही जगह स्थायी आवास का प्रमाणपत्र
  • किसी देश से आए हैं, तो केंद्र सरकार से जारी शरणार्थी सर्टिफिकेट
  • पासपोर्ट
  • एलआईसी की पॉलिसी
  • सरकार की ओर से जारी कोई भी लाइसेंस
  • सरकारी नौकरी में हैं या थे तो उससे जुड़े दस्तावेज
  • बैंक या पोस्ट ऑफिस में खाते के कागजात
  • नगर निकायों की ओर से जारी जन्म का प्रमाणपत्र
  • शिक्षा बोर्ड या यूनिवर्सिटी की ओर से जारी प्रमाणपत्र
  • संबंधित व्यक्ति के नाम कोर्ट से जारी कोई दस्तावेज
  • राशन कार्ड
  • शादी का सर्टिफिकेट

    कई दस्तावेज होने जरूरी

बता दें कि असम में NRC बनाने के लिए सरकारी अफसरों ने लोगों से 7 दस्तावेज मांगे थे। इसके बाद A और B लिस्ट बनी। A लिस्ट के लिए जरूरी दस्तावेजों से B लिस्ट के लिए मांगे गए दस्तावेज अलग रखे गए। यानी साफ है कि अगर आपके राज्य में NRC बनती है, तो ऊपर लिखे दस्तावेजों में से जितने ज्यादा आपके पास होंगे, खुद को भारत का नागरिक साबित करने में आपको उतनी ही सुविधा होगी।

Related Post

एशियन गेम्स 2018 : मंजीत सिंह ने भारत की झोली में डाला नौवां स्वर्ण, सिंधू गोल्ड से चूकीं

Posted by - August 28, 2018 0
जकार्ता। 18वें एशियाई खेलों के 10वें दिन मंगलवार (28 अगस्‍त) को भारत के मंजीत सिंह ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए…

सेंसर बोर्ड सदस्य बोले – भंसाली पर दर्ज हो देशद्रोह का मुकदमा

Posted by - November 9, 2017 0
पद्मावती कंट्रोवर्सी : सेंसर बोर्ड के सदस्य ने गृहमंत्री को चिट्ठी लिख फिल्म के कंटेंट पर जताई आपत्ति मुंबई। पद्मावती…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *