सोशल मीडिया में HATE फैलाने से बचें, वरना वीजा मिलना हो सकता है मुश्किल

57 0

नई दिल्ली। सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने और समाज के किसी तबके के प्रति दुर्भावना यानी हेट वाले पोस्ट करते हैं, तो ये खबर आपके लिए है। तमाम देशों ने वीजा चाहने वालों की सोशल मीडिया प्रोफाइल देखनी शुरू कर दी है। अगर आप को दुर्भावना पैदा करते पाया गया, तो आपका वीजा आवेदन रद्द भी किया जा सकता है।

किन देशों ने शुरू की है प्रोफाइलिंग ?

फिलहाल अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, सिंगापुर, साउथ अफ्रीका और ब्रिटेन ने वीजा चाहने वालों की सोशल मीडिया प्रोफाइल देखनी शुरू की है। यानी वीजा चाहने वाले का फेसबुक, ट्विटर, गूगल+ और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को जांचा-परखा जाने लगा है। अगर वीजा चाहने वाले ने कभी भी समाज के किसी तबके के प्रति दुर्भावना वाले पोस्ट किए होंगे, तो उसे वीजा देने से इनकार किया जा रहा है।

लैपटॉप और मोबाइल भी देखते हैं देश

लैपटॉप और मोबाइल की छानबीन करने की शुरुआत अमेरिका ने कर दी है। साल 2015 में अमेरिकी अफसरों ने वीजा चाहने वालों में से करीब 5 हजार लोगों के मोबाइल और लैपटॉप की छानबीन की थी, जबकि  2017 में ये संख्या बढ़कर 30 हजार 200 हो गई। 2018  में भी वीजा चाहने वालों के लैपटॉप और मोबाइल की छानबीन बड़े पैमाने पर की जा रही है। आने वाले दिनों में तमाम और देश भी अमेरिका की राह पर चलते हुए वीजा आवेदकों के लैपटॉप और मोबाइल की छानबीन शुरू करने जा रहे हैं।

Related Post

ट्विटर ने 2 महीने में बंद किए अफवाह फैलाने वाले 7 करोड़ फर्जी खाते

Posted by - July 7, 2018 0
टेक्नोलॉजी में बदलाव से हुई सहूलियत, मई 2018 में करीब 4 करोड़ संदिग्ध खातों की हुई पहचान   सैन फ्रांसिस्को। ट्विटर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *