जानिए सावन के उन गीतों के बारे में जो आज भी रहते हैं सबकी जुबान पर

512 0

लखनऊ। सावन का महीना आते ही फिजाओं में एक अलग सी हलचल होने लगती है। रिमझिम बारिश के बीच पेड़ों पर लगे झूले बहुत कुछ कहते हैं। प्रेम में डूबे जोड़ों के लिए तो इसका अहसास बड़ा खुशनुमा होता है।

सावन का महीना महिलाओं के लिए बहुत स्पेशल होता है। इस महीने में वो हरे रंग के कपड़े,  मेहंदी,  हरी चूड़ियाँ पहनती हैं और सावन के गीतों का आनंद उठाती हैं।

आप भी अगर इस सावन के महीने में सुनना चाहते हैं सावन के गीत, तो आज हम आपको सावन के उन गानों से रूबरू करा रहे हैं जो अपने जमाने में तो लोकप्रिय थे ही, आज भी ये हर किसी की जुबान पर रहते हैं। वास्‍तव में ऐसे गीतों की लोकप्रियता कभी कम नहीं होती।

 

सावन का महीना पवन करें शौर….

 

रिमझिम के गीत सावन के गाये ….

आया सावन झूम कर….

 लगी आग सावन की वो घड़ी है….

सावन के झूलों ने मुझको बुलाया….

Related Post

गलत फेसबुक पोस्ट पर बांग्लादेश ने पाक से कहा – मांगो माफी

Posted by - November 2, 2017 0
ढाका। पाकिस्तानी राजदूत द्वारा फेसबुक पर बांग्लादेश की आजादी के बारे में गलत जानकारी पोस्ट करने के बाद बांग्लादेश ने पाकिस्तान…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *