गरमी से परेशान हैं दुनिया के देश, इस वजह से लगातार बढ़ रहा है तापमान

68 0

लंदन। इस समय धरती पर विषुवत रेखा से ऊपर के इलाकों यानी उत्तरी गोलार्ध में गरमी और दक्षिणी गोलार्ध में ठंड का मौसम है। उत्तरी गोलार्ध में तमाम इलाकों में बारिश का मौसम भी चल रहा है, लेकिन उत्तरी गोलार्ध के तमाम देशों में भीषण गरमी पड़ रही है। भारत समेत जिन देशों में बारिश हो रही है, वहां भी काफी उमस देखी जा रही है। विशेषज्ञों के मुताबिक अगस्त के अंत तक इस गरमी से फिलहाल राहत नहीं मिलने जा रही है।

जेट स्ट्रीम्स से ठंडा या गरम होता है मौसम
आमतौर पर ग्लोबल वॉर्मिंग को गरमी की मुख्य वजह माना जाता है, लेकिन ग्लोबल वॉर्मिंग के अलावा एक और वजह से इस वक्त धरती के उत्तरी गोलार्ध में काफी गरमी हो रही है। इसकी मुख्य वजह वो जेट स्ट्रीम यानी हवाएं हैं, जो धरती पर चक्कर लगाती रहती हैं।

इस वजह से जेट स्ट्रीम नहीं कम कर पा रहीं गरमी
दरअसल जेट स्ट्रीम्स यानी धरती पर चक्कर मारती हवाएं उत्तरी और दक्षिणी गोलार्ध से ठंड और गरमी लाती हैं। मौजूदा वक्त में दक्षिणी गोलार्ध में ठंड का मौसम है। जेट स्ट्रीम्स को उन ठंडी हवाओं को उत्तर की ओर लाना चाहिए, लेकिन जेट स्ट्रीम्स की रफ्तार इतनी कम है कि वो ऐसा कर नहीं पा रही हैं। यानी जिस तेजी से हवाओं को चलना चाहिए, उतनी तेजी से वो चल नहीं रहीं और इसकी वजह से विषुवत रेखा के ऊपर के हिस्से में गरमी बनी हुई है।

इन वजहों से भी बढ़ी गरमी
गरमी बढ़ने की वजह कमजोर जेट स्ट्रीम्स तो हैं ही, इसके अलावा समुद्र की सतह के तापमान में बढ़ोतरी से भी गरमी बढ़ रही है। खासकर उत्तरी अटलांटिक महासागर की सतह का तापमान इस वक्त काफी है। इसे मौसम वैज्ञानिक एटलांटिक मल्टीडिकेडल ऑसिलेशन कहते हैं।

1976 में भी बने थे ऐसे ही हालात
मौसम वैज्ञानिकों के मुताबिक साल 1976 में भी मौसम के ऐसे ही हालात बने ते। तब भी अटलांटिक महासागर की सतह गरम हो गई थी। इसकी वजह से धरती के बड़े हिस्से में चलने वाली हवाएं कमजोर हो गई थीं। ऐसे में 1976 का साल 20वीं सदी का सबसे गरम साल रहा था।

Related Post

खतरनाक प्रदूषण से बचने के लिए सही मास्क खरीदना है जरूरी, जानें कौन सा मास्क है सही

Posted by - October 31, 2018 0
नई दिल्ली। अक्सर लोग प्रदूषण और डस्ट से बचने के लिए मुंह पर स्कार्फ या रूमाल बांधते हैं। इसके पीछे…

सेना प्रमुख बोले – अफस्पा पर पुनर्विचार का अभी सही समय नहीं

Posted by - January 28, 2018 0
जम्मू-कश्मीर और पूर्वोत्तर के विवादित क्षेत्रों में सुरक्षा बलों को विशेष अधिकार मुहैया कराता है अफस्पा नई दिल्‍ली। जम्मू-कश्मीर और…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *