जानिए, नवाज शरीफ और उनकी बेटी को किन वजहों से हुई है जेल की सजा

107 0

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की भ्रष्टाचार निरोधक अदालत ने पूर्व पीएम नवाज शरीफ और उनकी बेटी मरियम को दोषी ठहराते हुए जेल की सजा सुनाई है। नवाज को को 10 साल और मरियम को 7 साल की कैद की सजा सुनाई गई है। नवाज अब तक लंदन में थे। वहां उनकी पत्नी कुलसूम नवाज कोमा में हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि आखिर नवाज और उनकी बेटी पर कौन से आरोप सही पाए गए। चलिए आपको बताते हैं कि आखिर नवाज और मरियम के जेल जाने की नौबत क्यों आई।

इन वजहों से फंसे नवाज और मरियम

नवाज शरीफ और उनके परिवार के खिलाफ नेशनल अकाउंटिबिलिटी ब्यूरो ने भ्रष्टाचार के तीन मामले दर्ज किए। इनमें एवेनफील्ड प्रॉपर्टीज, गल्फ स्टील मिल्स और अल-अजीजा स्टील मिल्स से जुड़े केस थे।

एवेनफील्ड प्रॉपर्टीज यानी लंदन के एवेनफील्ड अपार्टमेंट में नवाज शरीफ और उनके परिवार के तीन फ्लैट हैं। इसका खुलासा पनामा पेपर्स में हुआ था। आरोप लगा कि नवाज ने 90 के दशक में गैरकानूनी तौर पर फ्लैट खरीदे। कोर्ट ने एवेनफील्ड अपार्टमेंट को ज़ब्त करने का आदेश भी दिया।
-पनामा पेपर्स के खुलासे के बाद नवाज शरीफ की बेटी मरियम ने कुछ दस्तावेज दिखाकर दावा किया था कि वो इस फ्लैट की ट्रस्टी हैं। ब्रिटिश फॉरेंसिक एक्सपर्ट ने इन कागजात को बाद में फर्जी बताया था। दस्तावेज़ में टाइपिंग के जो फॉन्ट थे, उनका इस्तेमाल 2007 के बाद शुरू हुआ था।
-नवाज शरीफ के दोनों बेटों हुसैन और हसन के अलावा मरियम ने ब्रिटिश वर्जिन आइलैंड में कम से कम चार कंपनियां शुरू की थीं। इन कंपनियों के पैसे से लंदन में छह बड़ी प्रॉपर्टी खरीदी गईं।

-शरीफ के परिवार के लोगों ने विदेश की प्रॉपर्टी को गिरवी रखकर डॉएचे बैंक से 70 करोड़ का लोन लिया। इसके अलावा, दो और अपार्टमेंट खरीदने में बैंक ऑफ स्कॉटलैंड से भी पैसा लिए जाने की पुष्टि हुई।

-पनामा पेपर लीक मामले में पिछले साल नवाज का नाम आने के बाद पाकिस्तान सुप्रीम कोर्ट ने उनको दोषी ठहराया था। कोर्ट ने शरीफ के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश देते हुए उनको पीएम पद के लिए अयोग्य ठहराया था। जिसके बाद नवाज को पीएम पद छोड़ना पड़ा था।

-सुप्रीम कोर्ट की ओर से पीएम पद का अयोग्य ठहराए जाने के बाद शरीफ और उनके परिवार के सदस्यों के खिलाफ तीन मुकदमे शुरू हुए थे।

-पनामा पेपर लीक्स मामले में नवाज और परिवार के लोगों के नाम सामने आने के बाद से ही विपक्षी पार्टियों ने हमलावर रुख अपनाया था। इमरान खान की पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ के कार्यकर्ताओं ने लगातार सड़कों पर उतर कर नवाज शरीफ के खिलाफ प्रदर्शन किए थे।

Related Post

तेल की बढ़ती कीमतों के खिलाफ भारत बंद, लेकिन विपक्ष की सरकारें भी तो नहीं दे रहीं राहत

Posted by - September 10, 2018 0
नई दिल्ली। पेट्रोल और डीजल की लगातार बढ़ती कीमतों के खिलाफ कांग्रेस और 21 अन्य विपक्षी दलों ने भारत बंद…

राजदेव हत्याकांड : आरोपी संग तेजप्रताप की तस्वीर पर सुप्रीम कोर्ट ने मांगा जवाब

Posted by - November 18, 2017 0
नई दिल्ली :बिहार के सीवान में पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड के आरोपी के साथ तस्वीर को लेकर लालू प्रसाद यादव के बेटे…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *