जापान ने बनाया उड़ने वाला छाता, बिना हाथ लगाए कर सकेंगे इस्तेमाल

124 0

टोक्यो। टेक्नोलॉजी के लिए दुनिया भर में मशहूर जापान ने एक और कमाल कर दिखाया है। उसने एक ऐसा छाता बनाने में सफलता पाई है जो हवा में उड़ सकता है। जापान की एक सूचना प्रौद्योगिकी (IT) कंपनी ने इस छाते का निर्माण किया है।

क्‍यों बनाया यह छाता ?

जापान की दूरसंचार प्रणाली विकसित करने वाली कंपनी आशी पावर ऐसे छाते बनाने पर काफी समय से काम कर रही है। कंपनी के प्रेसिडेंट केंजी सुजुकी का मानना है कि ऐसा छाता होना चाहिए कि जिसका इस्‍तेमाल दोनों हाथ खाली न रहने पर भी किया जा सके। उन्‍होंने बताया कि ऐसा छाता बनाने की योजना उन्होंने 3 साल पहले बनाई थी।

कैसे काम करता है यह छाता ?

जापान की कंपनी ने जो छाता तैयार किया है, वह ड्रोन की मदद से उड़ सकता है। सेंसर लगा होने के कारण यह छाता व्यक्ति के आसपास ही घूमता रहता है। यह फिलहाल 5 मिनट तक उड़ सकता है और इसका वजन 5 किलोग्राम है। कंपनी के प्रेसिडेंट केंजी सुजुकी ने बताया कि उनका लक्ष्य है कि 2020 में होने ओलंपिक और पैरालंपिक से पहले यह छाता बाजार में आ जाए।

अभी आ रही हैं दिक्‍कतें

केंजी सुजुकी के मुताबिक, उड़ने वाले छाते का जो नमूना अभी तैयार किया गया है, उसमें कई तरह की दिक्कतें हैं। एक तो वजन ज्यादा होने के कारण यह देर तक उड़ नहीं पाता। दूसरे, अगर व्यक्ति धीरे चलता है तो यह अपने आप उसके साथ घूम भी नहीं पाता। जाल से बने होने के कारण बारिश होने पर भी इससे बचाव होना भी कठिन है।

पहले निजी संस्‍थानों में होगा इस्‍तेमाल

जापान में सिविल एयरोनॉटिक्स के नियमों के मुताबिक, ड्रोन को सार्वजनिक स्थानों पर मौजूद व्यक्ति या बिल्डिंग से करीब 30 मीटर की दूरी पर होना चाहिए। माना जा रहा है कि शुरुआत में इस उड़ने वाले छाते का इस्तेमाल निजी संस्थानों में ही किया जाएगा। कंपनी ने इसे बनाने के लिए ऐसे सिस्टम पर काम शुरू किया है, जो इस्तेमाल करने वाले व्‍यक्ति की पहचान आसानी से कर सके।

Related Post

पीएनबी घोटाला : हीरा कारोबारी नीरव मोदी के 9 ठिकानों पर ईडी ने मारे छापे

Posted by - February 15, 2018 0
पंजाब नेशनल बैंक ने आरोपी नीरव मोदी और मेहुल के खाते फ्रॉड घोषित किए नई दिल्ली/मुंबई। देश के दूसरे बड़े…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *