हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी बना IPS ऑफिसर का भाई, तस्वीर वायरल

69 0
  • जम्‍मू-कश्‍मीर यूनिवर्सिटी से यूनानी मेडिसिन की पढ़ाई कर रहा था शमसुल हक

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर के युवाओं को मुख्‍यधारा में शामिल करने का सरकार का प्रयास सफल होता नहीं दिखाई दे रहा है। वे अब भी आतंकियों के बहकावे में आकर गलत रास्ते पर जा रहे हैं। अब एक आईपीएस अफसर के भाई के हिजबुल मुजाहिदीन में शामिल होने का चौंकाने वाला मामला सामने आया है। आतंकी बुरहान वानी की दूसरी बरसी पर रविवार (8 जुलाई) को हिजबुल मुजाहिद्दीन ने इस युवा आतंकी की तस्वीर जारी की है।

कौन है हिजबुल में शामिल होने वाला आतंकी ?

हिजबुल ने जिस युवा आतंकी की तस्‍वीर जारी की है, उसका नाम शमसुल हक मेंगनू है। शमसुल तस्वीर में एके-47 राइफल हाथ में लिए दिखता है। बता दें कि शमसुल एक युवा आईपीएस ऑफिसर का भाई है। शमसुल के छोटे भाई इनामुल हक 2012 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं, जो पूर्वोत्तर में तैनात हैं। शमसुल भी बीयूएमएस (बैचलर आफ यूनानी मेडिसन एंड सर्जरी) का छात्र है। हिज्बुल ने अपने इस नए रंगरूट का कोड नेम ‘बुरहान सानी’ या ‘बुरहान द्वितीय’ रखा है। आपको बता दें कि मेंगनू के भाई इनामुल हक 2012 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं, जो पूर्वोत्तर में तैनात हैं।

22 मई से गायब था शमसुल

बताया जा रहा है कि शमसुल 22 मई से कश्मीर यूनिवर्सिटी से गायब चल रहा था। इसी दिन जाकुरा पुलिस थाने में शमसुल के मां-पिता ने उसके गुमशुदा होने रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पता चला है कि 25 मई को ही शमसुल ने हिजबुल में शामिल हो गया था। हिजबुल की ओर से इस युवा की तस्वीर सोशल मीडिया पर जारी करते ही वायरल हो गई है। 25 वर्षीय शमसुल मूल रूप से दक्षिणी कश्मीर में स्थित शोपियां जिले के ड्रागुड गांव का रहने वाला है।

पहले भी कई युवा बने हैं आतंकी

बता दें कि इससे पहले रविवार को ही डोडा जिले के आबिद भट नामक युवक के भी आतंकियों के साथ जाने की आशंका जताई गई है। इस मामले में डोडा के एसएसपी का कहना है, ‘हमें सोशल मीडिया के जरिए जानकारी मिली है कि 30 जून से लापता आबिद भट नाम के शख्स ने आतंकी संगठन ज्‍वाइन कर लिया है। हालांकि उसका आतंकी घटनाओं में शामिल होने का पिछला कोई रेकॉर्ड नहीं है।’ इससे पहले पिछले महीने पुलवामा से एक स्पेशल पुलिस ऑफिसर के गायब होने की जानकारी सामने आई थी। वहीं, अप्रैल में शोपियां जिले से मीर इदरीश सुल्तान नामक एक सिपाही गायब हो गया था। बाद में उसके हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल होने की बात सामने आई थी।

Related Post

राजस्थान में 8वीं की किताब में लोकमान्य तिलक को बताया ‘फादर ऑफ टेररिज्म’

Posted by - May 12, 2018 0
मामला सामने आने के बाद मचा बवाल, कांग्रेस ने की किताब पर तुरंत प्रतिबंध लगाने की मांग जयपुर। राजस्थान में भाजपा…

बालिग हादिया ने मर्जी से की शादी, एनआईए को जांच का हक नहीं : सुप्रीम कोर्ट

Posted by - January 23, 2018 0
केरल लव जिहाद केस में सुप्रीम कोर्ट ने कहा – पति के क्रिमिनल बैकग्राउंड की हो सकती है जांच नई दिल्‍ली।…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *