हो जाएं सावधान, डायबिटीज के लिए वायु प्रदूषण भी जिम्मेदार !

281 0
  • अध्‍ययन में पता चला कि डायबिटीज के 7 में से 1 मामले में वायु प्रदूषण है इसका कारण

नई दिल्‍ली। डायबिटीज को वैसे तो मुख्य रूप से जीवनशैली से जुड़ी बीमारी माना जाता है। आहार की आदतों और सुस्त जीवनशैली को इस बीमारी का मुख्य कारक मानते हैं, लेकिन हाल ही में हुए एक अध्ययन के मुताबिक वायु प्रदूषण की वजह से भी डायबिटीज होने की आशंका बढ़ जाती है।

कहां हुआ अध्‍ययन ?

अमेरिका के सेंट लुइस में वाशिंगटन यूनिवर्सिटी ऑफ मेडिसिन के शोधकर्ताओं ने यह अध्ययन किया है। वेटरन्स अफेयर्स क्लीनिकल ऐपिडेमियोलॉजी सेंटर के वैज्ञानिकों के साथ काम करने वाले अनुसंधानकर्ताओं ने 17 लाख पूर्व अमेरिकी सैनिकों से जुड़े आंकड़ों के आधार पर अध्ययन किया जिन्हें पहले कभी मधुमेह की शिकायत नहीं रही।  अध्‍ययन में पता चला कि वायु प्रदूषण भी मधुमेह की बीमारी हो सकती है।

क्‍या निकला शोध में ?

शोधकर्ताओं ने अपने अध्‍ययन में पाया कि साल 2016 में मधुमेह यानी डायबिटीज के 7 में से 1 मामले में वायु प्रदूषण जिम्मेदार है। अध्ययन से पता चला है कि वायु प्रदूषण के स्‍तर कम हो, तब भी इस बीमारी के पनपने की आशंका रहती है। शोध में पता चला कि प्रदूषण शरीर में इंसुलिन का उत्पादन नहीं होने देता। इसके कारण शरीर ब्लड शुगर को सेहत के लिए जरूरी ऊर्जा में नहीं बदल पाता।

और क्‍या कहा गया शोध में ?

अध्ययन के मुताबिक, साल 2016 में दुनियाभर में प्रदूषण की वजह से डायबिटीज के 32 लाख नए मामले सामने आए थे। यह साल 2016 में सामने आए डायबिटीज के कुल मामलों का करीब 14 प्रतिशत है। आंकड़ों की बात करें तो दुनियाभर में फिलहाल 42 करोड़ मधुमेह के रोगी हैं। वर्तमान में भारत में ही 3 करोड़ से ज्यादा डायबिटीज के मरीज हैं।

Related Post

उन्नाव गैंगरेप केस में योगी सख्त, शाम तक SIT रिपोर्ट मांगी, ऑडियो वायरल

Posted by - April 11, 2018 0
लखनऊ। उन्नाव में हुए गैंगरेप केस में यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सख्त रुख अपनाया है। उन्होंने इस मामले…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *