सुरक्षाबलों को बड़ी सफलता, अनंतनाग में IS सरगना समेत 4 आतंकी ढेर

99 0
  • मुठभेड़ में 1 जवान शहीद, एक नागरिक की भी मौत, सुरक्षाबलों पर पथराव के बाद इंटरनेट बंद

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में रमजान के दौरान लागू सीजफायर के खत्म होते ही सुरक्षाबलों ने ऑपरेशन ऑलआउट फिर से शुरू कर दिया है। शुक्रवार (22 जून) सुबह दक्षिण कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच कई घंटे चली मुठभेड़ में 4 आतंकी मारे गए। मुठभेड़ के दौरान जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवान आशिक हुसैन भी शहीद हो गए। इसके अलावा एक नागरिक की भी मौत हुई है, उसकी पहचान अभी नहीं हुई है।

मारे गए आतंकी आईएसजेके से जुड़े थे

सुरक्षाबलों को गुरुवार देर रात ही अनंतनाग जिले के श्रीगुफवारा इलाके में आतंकियों के छिपे होने की जानकारी मिली थी, जिसके बाद उन्हें घेर लिया गया था। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने बताया कि शुक्रवार तड़के मुठभेड़ शुरू हुई। अपने को घिरा देख चारों आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाब में सेना ने भी मोर्चा खोल दिया और कई घंटे तक चली मुठभेड़ में चारों आतंकी मारे गए। इस दौरान एक पुलिसकर्मी शहीद हो गया, जबकि दो स्थानीय नागरिक घायल हो गए हैं।’ वैद ने बताया है कि मारे गए सभी आतंकी इस्लामी स्टेट जम्मू-कश्मीर (आईएसजेके) से जुड़े थे। मुठभेड़ में मारे गए आतंकियों में IS सरगना दाऊद सोफी भी शामिल था।

कई जिलों में इंटरनेट सेवा बंद

एनकाउंटर के बाद कश्मीर के कई जिलों में इंटरनेट सेवा पूरी तरह से बंद कर दी गई है। बताया जा रहा कि जिस जगह पर ये एनकाउंटर हुआ वहां पर बड़ी संख्‍या में स्थानीय नागरिक जमा हो गए थे। उन्‍होंने सीआरपीएफ और पुलिस पर पथराव किया।

समीर टाइगर का करीबी भी मारा गया

मारे गए आतंकियों में पुलवामा का माजिद, श्रीनगर का दाऊद और भिजबिहारा का आदिल भी शामिल है। बताया जा रहा है कि मारा गया माजिद हिज्बुल आतंकी समीर टाइगर का करीबी था। बता दें कि समीर टाइगर 2016 में हिज्बुल मुजाहिदीन में शामिल हुआ था। समीर पुलवामा का रहने वाला है और हिज्बुल के कई हमलों में शामिल रह चुका है। बुरहान वानी के बाद समीर को कश्मीर के पोस्टर ब्वॉय के रूप में पेश किया गया है। समीर ने आतंकी वसीम के जनाजे में शामिल होकर फायरिंग भी की थी।

एक दिन पहले भी मारे गए  थे 3 आतंकी

सीजफायर खत्म होने के बाद सेना का ये दूसरा बड़ा ऑपरेशन था। इससे पहले गुरुवार (21 जून) को भी पुलवामा के त्राल में सुरक्षाबलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया था। इस दौरान एक स्थानीय नागरिक भी घायल हुआ था। ये सभी आतंकी आकिब हीनास के घर में छुपे हुए थे। आकिब को कुछ साल पहले ही एनकाउंटर में मार दिया गया था। ऑपरेशन के दौरान सेना ने उस घर को भी उड़ा दिया था, जिसमें आतंकी छिपे थे।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *