अफगानिस्तान में भारतीय दूतावास के पास आत्मघाती हमला, 14 की मौत

166 0
  • जलालाबाद के नानगरहर प्रांत के गवर्नर के कार्यालय के बाहर हुआ हमलाहमले में 45  घायल

काबुल। पूर्वी अफगानिस्तान के जलालाबाद में रविवार (17 जून) को एक आत्मघाती हमले में 14 लोगों की मौत हो गई। इस हमले में कम से कम 45 लोग घायल बताए जा रहे हैं। धमाका नानगरहर प्रांत के गवर्नर के कार्यालय के बाहर हुआ। इसी इलाके में भारतीय दूतावास भी मौजूद है। 

पैदल ही आया था आत्‍मघाती हमलावर

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, नानगरहर प्रांत के गवर्नर के प्रवक्ता अतातुल्लाह खोग्यानी ने बताया  कि हमलावर कार्यालय तक पैदल आया था। उसके निशाने पर ईद की दावत के लिए आए तालिबानी नेता और स्थानीय नागरिक थे। हालांकि, यह आत्‍मघाती हमला किस संगठन ने किया, ये अभी साफ नहीं हो पाया है।

एक दिन पहले भी हमले में मारे गए थे 36 लोग

बता दें कि इससे एक दिन पहले नानगरहर प्रांत में ही ईद के मौके पर इकट्ठा हुए तालिबान, सुरक्षाबलों और आम नागरिकों की भीड़ पर आत्मघाती हमला हुआ था। इस हमले में 36 लोगों की मौत हो गई थी और 65 लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए थे। अफगानिस्तान इस्लामिक स्टेट (आईएसआईएस) ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी।

तालिबान और सरकार ने साथ मनाई थी ईद

उल्‍लेखनीय है कि इस बार अफगानिस्तान में शनिवार को तालिबान आतंकियों और अफगान सैनिकों ने मिलकर ईद मनाई थी। 22 साल में ये पहला मौका था, जब दोनों ने साथ में ईद मनाई हो। इस दौरान सैनिक और आतंकी एक-दूसरे से गले मिले, हाथ मिलाए और सेल्फी भी ली। बता दें कि 7 जून को अफगानिस्तान सरकार ने रमजान के दौरान 7 दिन के संघर्ष विराम का ऐलान किया था। हालांकि तालिबान की ओर से सिर्फ तीन दिन का संघर्ष विराम ही घोषित किया था।

Related Post

यूपी : मिड-डे मील के नाम पर बच्चों को परोसा जा रहा स्तरहीन खाना, ऐसे न मिलेगी पौष्टिकता न बढ़ेगी उपस्थिति

Posted by - November 28, 2018 0
बहराइच। सरकारी स्कूलों में मिड डे मील स्कीम लागू है, लेकिन बच्चों को परोसे जाने वाले खाने को लेकर अक्सर…

इच्छामृत्यु संबंधी पहली वसीयत रजिस्टर, SC ने दी थी बीते दिनों मंजूरी

Posted by - March 21, 2018 0
नई दिल्ली। सम्माननीय मौत संबंधी सुप्रीम कोर्ट के ऐतिहासिक फैसले के बाद इच्छामृत्यु संबंधी पहली वसीयत देश में रजिस्टर हुई…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *