सेना ने कहा, आईएसआई ने कराई संपादक शुजात बुखारी की हत्या

70 0
  • बाइक सवार तीनों हमलावरों की हुई पहचान, शुजात बुखारी को मारी थीं 15 गोलियां

श्रीनगर। सेना ने कहा है कि कश्मीर के वरिष्‍ठ पत्रकार और‘राइजिंग कश्मीर’के संपादक सैय्यद शुजात बुखारी हत्या के पीछे पाकिस्तान का हाथ है। एक न्यूज चैनल से बातचीत में शुक्रवार (15 जून) को लेफ्टिनेंट जनरल एके भट्ट ने बताया कि संपादक बुखारी की हत्या पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई ने करवाई है। उधर, शुजात बुखारी की हत्या के मामले में पुलिस ने भी नया खुलासा किया है। पुलिस के मुताबिक, आतंकी शुजात बुखारी को मारने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ना चाहते थे और इसीलिए उन पर ताबड़तोड़ 15 गोलियां दागी गई थीं।

बाइक सवार हमलावरों ने की थी हत्‍या

श्रीनगर में गुरुवार की शाम तीन बाइक सवार आतंकियों ने शुजात बुखारी की गोली मारकर हत्‍या कर दी थी। जम्मू-कश्मीर पुलिस के मुताबिक, गुरुवार की शाम वह श्रीनगर के प्रेस एन्क्लेव में स्थित अपने ऑफिस से एक इफ्तार पार्टी में शामिल होने के लिए निकले थे, तभी उन पर यह जानलेवा हमला हुआ। हमले में उनकी सुरक्षा में तैनात दो सुरक्षाकर्मियों की भी मौत हो गई।

लश्कर के आतंकी निकले तीनों हमलावर

शुजात बुखारी की हत्या के बाद सामने आए संदिग्ध बाइक सवार हमलावरों की पहचान कर ली गई है। तीनों लश्कर के आतंकी हैं। उनकी पहचान अबू उसामा, नवीद जट और मेहराजुद्दीन बंगारू के रूप में हुई है। बताया जा रहा है कि नवीद जट पाकिस्‍तान का रहने वाला है। वह कुछ समय पहले कश्मीर हॉस्पिटल से फरार हो गया था। बाइक सवार संदिग्धों की जो तस्वीर सामने आई है, उसमें नवीद जट बाइक पर बीच में बैठा दिख रहा है। पुलिस ने तीनों संदिग्धों की पहचान के लिए उनकी तस्वीरें जारी की थीं और अब स्थानीय लोगों की मदद से बाकी तीनों आतंकियों की तलाश कर रही है।

सामने आया चौथा संदिग्‍ध, पुलिस ने किया गिरफ्तार

पुलिस की जांच में एक चौंकाने वाली बात सामने आई है। एक वीडियो से पता चला है कि एक अन्य संदिग्ध युवक भी है जो हमले के बाद शव को कार से निकालने में स्थानीय लोगों की मदद कर रहा है। इसी दौरान वह सुरक्षाकर्मियों की नीचे गिरी पिस्‍तौल फुर्ती से उठाता है और सबसे नजर बचाकर भाग निकलता है। पुलिस ने शुक्रवार को चौथे संदिग्ध की तस्वीर जारी की और बाद में उसे गिरफ्तार कर लिया गया। उसकी पहचान जुबैर कादरी के रूप में हुई है।

सुपुर्द-ए-खाक किए गए बुखारी, उमड़ा जनसैलाब

जम्मू कश्मीर के बारामुला में उनके पैतृक गांव में शुक्रवार को शुजात बुखारी को सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। बुखारी के जनाजे में लोगों का सैलाब उमड़ा पड़ा। उनको आखिरी विदाई देने के लिए हजारों की संख्या में लोग जनाजे में शामिल हुए और आतंकियों को करारा जवाब दिया। भारी बारिश के बावजूद बारामूला में हजारों लोग नम आंखों से बुखारी के जनाजे के साथ-साथ चल रहे थे। जनाजे में विपक्ष के नेता उमर अब्दुल्ला और पीडीपी तथा भाजपा के मंत्री भी शामिल थे।

Related Post

पेशी के लिए कोर्ट आए आसाराम के पैरों में पड़ गए पूर्व चीफ जस्टिस

Posted by - December 17, 2017 0
सिक्किम के पूर्व राज्‍यपाल सुंदर नाथ भार्गव और उनके दो सरकारी गार्डों ने भी आसाराम से लिया आशीर्वाद जोधपुर। नाबालिग…

जानते हैं, महाभारत युद्ध के दौरान लाखों सैनिकों के लिए कौन बनाता था भोजन

Posted by - August 2, 2018 0
उडुपी। कौरवों और पांडवों के बीच महाभारत का युद्ध होने वाला था। दोनों अपने-अपने पक्ष में राजाओं को ला रहे…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *