PNB को हजारों करोड़ का लगाया चूना, अब बचने को नीरव मोदी ने चला ये पैंतरा

150 0

नई दिल्ली। पीएनबी को हजारों करोड़ का चूना लगाकर देश से फरार होने वाला ज्वेलर नीरव मोदी अब बचने के लिए नए-नए दांव खेल रहा है। भारत से फरार होने के बाद वो पहले हांगकांग गया और वहां से ब्रिटेन चला गया। अभी वो ब्रिटेन में है और उसने बचने के लिए नया पैंतरा चला है।

नीरव मोदी का नया पैंतरा

अंग्रेजी अखबार ‘फाइनेंशियल टाइम्स’ के मुताबिक, नीरव मोदी ने ब्रिटेन में राजनीतिक शरण मांगी है। नीरव ने दलील दी है कि उसे राजनीतिक तौर पर परेशान किया जा रहा है। बता दें कि नीरव मोदी के अलावा उसका मामा मेहुल चोकसी भी बैंक को करोड़ों का चूना लगाकर फरार हुआ है।

क्या कर रहा है विदेश मंत्रालय ?

विदेश मंत्रालय के सूत्रों के मुताबिक, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी और किंगफिशर एयरलाइंस के विजय माल्या का ब्रिटेन से प्रत्यर्पण कराने के लिए सीबीआई और अन्य एजेंसियां पूरी कोशिश कर रही हैं और हर हाल में तीनों का प्रत्यर्पण कराया जाएगा।

किनके खिलाफ सीबीआई ने लगाया है आरोप ?

सीबीआई ने पीएनबी लोन घोटाले में नीरव मोदी, उसके मामा मेहुल चोकसी, पीएनबी की पूर्व प्रमुख ऊषा अनंत सुब्रहमण्यम, बैंक के दो एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर और नीरव मोदी की तीन कंपनियों के खिलाफ फ्रॉड करने के आरोप लगाए हैं, जबकि नीरव और मेहुल चोकसी ने खुद को बेगुनाह बताया है।

Related Post

बीवी की जासूसी करवा रहे थे नवाजुद्दीन सिद्दीकी, क्राइम ब्रांच ने भेजा समन

Posted by - March 10, 2018 0
मुंबई। बॉलीवुड एक्टर नवाजुद्दीन सिद्दीकी को महाराष्ट्र के थाणे की क्राइम ब्रांच ने कॉल डिटेल रिकार्ड (सीडीआर) मामले में जांच के लिए समन…

यामी गौतम ने क्यों पहनी सफ़ेद साड़ी,जानिए इसके पीछे की कहानी…

Posted by - July 5, 2018 0
मुंबई। फिल्म ‘बत्‍ती गुल मीटर चालू’ की पहली झलक हाल ही में सामने आई है। फिल्म में यामी गौतम एक वकील की भूमिका  में…

मदद रुकते ही बौखलाया पाक, कराची में ट्रंप के खिलाफ प्रदर्शन

Posted by - January 2, 2018 0
पाकिस्तान सरकार ने पाकिस्तान में अमेरिकी राजदूत डेविड हाले को किया समन इस्‍लामाबाद। पाकिस्तान को मिलने वाली 1628 करोड़ की…

राममंदिर पर श्री श्री की मध्यस्थता को लेकर हिंदू महासभा में फूट

Posted by - October 31, 2017 0
अखिल भारत हिंदू महासभा के महासचिव मुन्ना शर्मा ने जहां श्री श्री रविशंकर के कदम को राजनीति से प्रेरित बताते…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *