सुनंदा पुष्कर प्रकरण : थरूर पर चलेगा पत्नी को आत्महत्या के लिए उकसाने का केस

78 0
  • कोर्ट ने चार्जशीट पर लिया संज्ञान, कहा थरूर पर केस चलाने के लिए हैं पर्याप्त सबूत  
  • पटियाला हाउस कोर्ट ने जारी किया समन, 7 जुलाई को आरोपी के रूप में होना होगा पेश

नई दिल्ली। सुनंदा पुष्‍कर हत्‍याकांड मामले में दिल्‍ली की अदालत ने पुलिस की चार्जशीट पर संज्ञान ले लिया है। अब शशि थरूर को एक आरोपी के तौर ट्रायल का सामना करना होगा। शशि थरूर पर आत्महत्या के लिए उकसाने और वैवाहिक जीवन में क्रूरता का आरोप है।

क्‍या कहा कोर्ट ने ?

दिल्‍ली पुलिस की चार्जशीट पर संज्ञान लेते हुए कोर्ट ने कहा कि शशि थरूर के खिलाफ आत्‍महत्‍या के लिए उकसाने (आईपीसी की धारा 306) और वैवाहिक जीवन में क्रूरता (धारा 498ए) के आरोपों में केस चलाने के लिए पर्याप्त सबूत हैं। कोर्ट ने उन्‍हें 7 जुलाई को पेश होने के लिए समन जारी किया है। बता दें कि सुनंदा की मौत के 4 साल बाद बीती 14 मई को दिल्‍ली पुलिस ने पटियाला हाउस कोर्ट में चार्जशीट दाखिल की थी।

सुब्रमण्यम स्वामी ने भी दी है अर्जी

इस मामले में भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने भी कोर्ट में दो अर्जी लगाई हैं। पहली अर्जी में उन्होंने कहा कि इस केस में दिल्ली पुलिस ने जो अपने अफसरों की विजिलेंस जांच कराई थी, उसे कोर्ट में पेश किया जाए, क्योंकि अफसरों ने सबूतों से छेड़छाड़ की है। इसका जिक्र विजिलेंस रिपोर्ट में भी है। दूसरी अर्जी में उन्होंने कहा कि ये मामला हत्या का है इसलिए हत्या के तहत ट्रायल चले। इन दोनों अर्जी पर भी कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। इस पर भी कोर्ट 7 जुलाई को सुनवाई करेगी.

Related Post

ट्रंप की किम जोंग को चेतावनी – मेरे पास ज्यादा बड़ा और पावरफुल न्यूक्लियर बटन

Posted by - January 3, 2018 0
वाशिंगटन। उत्तरी कोरिया के शासक किम जोंग उन द्वारा परमाणु हथियार चलाने का बटन हर समय उनके पास मौजूद रहने की…

महाराष्ट्र के इस गांव में है अनोखा स्कूल, जहां सिर्फ बुजुर्ग महिलाएं ही पढ़ने आती हैं

Posted by - September 24, 2018 0
मुंबई। कहते हैं, पढ़ाई-लिखाई की कोई उम्र नहीं होती है। अगर कुछ सीखने की लगन हो तो उम्र मायने नहीं…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *