शराब पीने की अब जरूरत नहीं, बस पीजिए COCA COLA !

334 0

टोक्यो। शराब पीने वालों में से तमाम लोग ऐसे हैं, जो नहीं चाहते कि कोई उन्हें नशा करते हुए देखे। ऐसे लोग कोल्ड ड्रिंक में शराब मिलाकर पीते हैं। आधा लीटर कोल्ड ड्रिंक में शराब मिलाने के बाद ये लोग ट्रेन से लेकर बस तक कहीं भी नशे की अपनी खुराक पूरी करते दिख जाएंगे। ऐसे ही लोगों को कोका कोला कंपनी नए फ्लेवर में कोल्ड ड्रिंक और शराब का मेल परोसने जा रही है। फिलहाल शराब का मजा देने वाली कोका कोला की ये कोल्ड ड्रिंक जापान के बाजार में उतार दी गई है।

कोका कोला क्यों लाया नशे वाली ड्रिंक ?
दरअसल, जापान में तमाम महिलाएं शराब पीती हैं, लेकिन महिलाओं के शराब पीने को वहां अच्छा नहीं माना जाता। ऐसे में महिलाएं कोल्ड ड्रिंक में शराब मिलाकर पीती थीं। ऐसे में कोका कोला ने तीन ऐसे लेमन डू ड्रिंक बाजार में उतारे हैं, जिनमें तीन, पांच और सात फीसदी अल्कोहल मिला हुआ है। कोका कोला जापान के प्रेसीडेंट जॉर्ज गार्दूनो के मुताबिक कंपनी ने अपने 125 साल के इतिहास में पहली बार ऐसा किया है। वैसे कोका कोला कंपनी 1970 के दशक में शराब का कारोबार भी अमेरिका में करती रही है।

कितने की है नई कोल्ड ड्रिंक
जापान में कोका कोला ने जो अल्कोहल वाली कोल्ड ड्रिंक बाजार में उतारी है, उसकी 350 एमएल बोतल की कीमत 150 येन यानी भारतीय मुद्रा में करीब 75 रुपए रखी है। कोका कोला की जापानी यूनिट के प्रवक्ता मसाकी लिदा ने ड्रिंक में मिलाई जाने वाली चीजों के बारे में तो नहीं बताया, लेकिन कहा कि ये कंपनी का पायलट प्रोजेक्ट है और तमाम लोग नई ड्रिंक को खरीद रहे हैं।

कहां से कोका कोला को आया आइडिया ?
कोल्ड ड्रिंक में अल्कोहल मिलाने का आइडिया कोका कोला को जापान के इजाकाया पब्स को देखकर आया। जहां कंपनी ने पाया कि लेमन फ्लेवर्ड ड्रिंक्स में मिलाकर महिलाएं शराब पीती हैं। इन्हें जापान में चुहाई ड्रिंक कहा जाता है।

क्या होती है चुहाई ड्रिंक ?
चुहाई ड्रिंक में वोदका या अनाज से बनी शोचू नाम की शराब मिलाई जाती है। इन ड्रिंक्स को अंगूर, स्ट्रॉबेरी, कीवी और पीच फ्लेवर में बेचा जाता है। इन ड्रिंक्स में तीन से नौ फीसदी तक अल्कोहल होता है। इन ड्रिंक्स को युवा और खासकर महिलाएं ज्यादा पीती हैं।

Related Post

ज्यादा कमाना है तो ब्रेस्टफीडिंग जरूर कराना, 50 की उम्र में 10 प्रतिशत तक बढ़ सकती है सैलरी

Posted by - October 8, 2018 0
लंदन। जो महिलाएं बच्चों को ब्रेस्टफीडिंग करवाती हैं वो 50 की उम्र होने तक दूसरी महिलाओं के मुकाबले 10 प्रतिशत…

CJI दीपक मिश्रा की तल्ख टिप्पणी – ‘सिस्टम की आलोचना करना आसान, बदलना मुश्किल’

Posted by - August 16, 2018 0
नई दिल्‍ली। बीते कुछ समय से आलोचनाओं का सामना कर रहे देश के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस दीपक मिश्रा ने आखिरकार…

केंद्रीय कर्मचारियों को सरकार का तोहफा, नए घर के लिए अब ले सकेंगे 25 लाख का एडवांस

Posted by - November 10, 2017 0
सरकार की ओर से नए आशियाने की तलाश में जुटे केंद्रीय कर्मचारियों को एक और तोहफा मिलने जा रहा है.…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *