इस बार मॉनसून की है ऐसी चाल, किसान और आम लोग हो जाएंगे खुशहाल

60 0

नई दिल्ली। देश के ज्यादातर हिस्सों में पड़ रही भीषण गर्मी से परेशान लोगों और खासकर धान बुवाई के लिए बादलों का इतंजार कर रहे किसानों के लिए अच्छी खबर है। मॉनसून मंगलवार (28 मई) तक केरल में दस्तक देने जा रहा है। हालांकि, कई निजी फोरकास्टर्स के मुताबिक भारत में मॉनसून की बारिश तो ठीक होगी, लेकिन कई इलाकों में कम बारिश भी हो सकती है। मौसम विभाग ने इस पर कहा है कि मॉनसूनी हवाएं जब बादलों को लाएंगी, तभी पता चलेगा कि कहां बारिश ज्यादा होगी या कम।

कहां पहुंचा मॉनसून ?
मौसम विभाग के मुताबिक, दक्षिण-पश्चिमी मॉनसून शुक्रवार को दक्षिण अंडमान सागर तक पहुंच गया था। ऐसे मे इसके अगले 4 दिन में केरल पहुंचने की उम्मीद है। आमतौर पर 1 जून को केरल में मॉनसून दस्तक देता है, लेकिन इस बार वो वक्त से 3 दिन पहले ही केरल पहुंच सकता है।

कुछ इलाकों में सूखा पड़ने की जताई आशंका
प्राइवेट वेदर फोरकास्ट एजेंसी एक्यूवेदर ने भविष्यवाणी की है कि उत्तर-पश्चिम और दक्षिण-पूर्वी भारत के कुछ हिस्सों में सूखा पड़ सकता है। प्राइवेट फोरकास्टर स्काइमेट का कहना है कि पूर्वोत्तर भारत के ज्यादातर हिस्सों में बारिश कम हो सकती है। उसका तो ये भी कहना है कि इन इलाकों में अगस्त में जुलाई से भी कम बारिश के आसार हैं।

सूखे की आशंका पर मौसम विभाग क्या बोला ?
सूखे की आशंका पर मौसम विभाग के लांग रेंज फोरकास्ट के निदेशक डीएस पई का कहना है कि मॉनसून से देश के अलग-अलग हिस्सों में बारिश का अभी से अनुमान लगाना ठीक नहीं है। वहीं, स्काइमेट की ओर से कहा गया है कि मॉनसून की शुरुआथ में मुंबई समेत तमाम राज्यों में भारी बारिश हो सकती है। बता दें कि देश में साल भर में होने वाली बारिश में 73 फीसदी मॉनसून के दौरान होती है।

Related Post

कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी को ट्विटर पर धमकी, दर्ज कराया केस

Posted by - July 2, 2018 0
मुंबई। पासपोर्ट मामले को लेकर सोशल मीडिया पर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्रोल करने का मामला अभी पूरी तरह…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *