OMG : युवक की मूंछ ने करा दी हिंसा, गुजरात के पाटन में 11 लोग घायल

494 0

पालनपुर। गुजरात के पाटन जिले के नायका गांव में एक युवक की मूंछों ने दो समुदायों के बीच मारपीट करा दी। हालत ये हो गई कि 11 लोग घायल हो गए। इनमें से वजेसिंह राठौड़ नाम का शख्स गंभीर है और उसे मेहसाणा के हॉस्पिटल में दाखिल कराया गया है। 8 और घायलों का पाटन के निजी अस्पताल में इलाज चल रहा है।

मूंछ ने इस तरह कराई मारपीट
हुआ यूं कि गुरुवार को दरबार समुदाय के एक युवक ने गांव की गलियों से निकलते वक्त अपनी मूंछें उमेठनी शुरू कर दीं। इसका पाटीदार समुदाय के लोगों ने विरोध किया। युवक ने फिर भी मूंछें उमेठनी जारी रखीं, तो गांव में तनाव हो गया। देखते ही देखते दोनों समुदाय के लोग आमने-सामने आ गए और डंडों, पाइप और धारदार हथियारों से एक-दूसरे पर हमला करना शुरू कर दिया।

मुश्किल से हिंसा रोक सकी पुलिस
गांव में पाटीदार और दरबार समुदाय के बीच जंग की खबर पुलिस को लगी, तो प्रशासन के हाथ-पैर फूल गए। लोगों के घायल होने की खबरें लगातार मिलने के बाद पुलिस का बड़ा दस्ता गांव पहुंचा, लेकिन पुलिस की मौजूदगी में भी पाटीदारों और दरबारों के बीच संघर्ष होता रहा। काफी मुश्किल से पुलिस हिंसा पर कंट्रोल कर सकी। फिलहाल गांव का रूप किसी पुलिस छावनी की तरह हो गया है। पाटन के डीएसपी आरडी जाला के मुताबिक दोनों समुदायों के 26 लोगों के खिलाफ हिंसा के मामले में केस दर्ज किया गया है। इन सभी पर हत्या की कोशिश, हिंसा और हमले के अलावा कई अन्य धाराएं लगाई गई हैं।

Related Post

मेक्सिको जा रहीं मार्क जुकरबर्ग की बहन से विमान में छेड़छाड़

Posted by - December 2, 2017 0
मेक्सिको :  फेसबुक के संस्थापक मार्क जकरबर्ग की बहन रैंडी जकरबर्ग से अलास्का एयरलाइंस की फ्लाइट में कथित छेड़छाड़ का…

कासगंज में रविवार को भी हिंसा, गाड़ियों और दुकानों को लगाई आग

Posted by - January 28, 2018 0
अफवाहें फैलाने से रोकने के लिए प्रशासन ने इंटरनेट सेवाओं पर लगाई रोक कासगंज। कासंगज में कर्फ्यू के बावजूद रविवार…

मणिशंकर बोले – मां-बेटे के रहते किसी का कांग्रेस अध्यक्ष बनना नामुमकिन

Posted by - October 8, 2017 0
वरिष्‍ठ कांग्रेसी ने कहा – कांग्रेस में परिवारवाद की परिपाटी शुरू से, जो शायद कभी खत्म नहीं होगी कसौली (सोलन)। ‘कांग्रेस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *