लोक सेवा आयोग ने घोषित किया यूपी पीसीएस-2017 मुख्य परीक्षा का कार्यक्रम

107 0
  • 18 जून से लेकर 6 जुलाई तक दो सत्रों में इलाहाबाद और लखनऊ में आयोजित होगी परीक्षा
  • कुल 677 पदों में इस बार नायब तहसीलदार के 114 पद, एसडीएम के 22 व डिप्‍टी एसपी के 90 पद

इलाहाबाद। सुप्रीम कोर्ट से पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा-2017 के परिणाम संशोधन के मामले में स्टे मिलने के बाद उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) ने पीसीएस मुख्य परीक्षा का कार्यक्रम जारी कर दिया है। यह परीक्षा 18 जून से लेकर 6 जुलाई तक दो सत्रों में इलाहाबाद और लखनऊ के निर्धारित केंद्रों पर आयोजित होगी।

दो सत्रों में होगी परीक्षा

उप्र लोक सेवा आयोग के सचिव जगदीश ने बताया कि प्रथम सत्र में परीक्षा सुबह 9.30 से दोपहर 12.30 बजे तक और दूसरे सत्र में दोपहर 2 से शाम 5 बजे तक होगी। केवल सामान्य अध्ययन प्रथम प्रश्नपत्र की परीक्षा सुबह 9.30 से 11.30 बजे तक तथा सामान्य अध्ययन द्वितीय प्रश्नपत्र की परीक्षा दोपहर 2.30 से 4.30 बजे तक होगी। आयोग के मुताबिक, 20 जून को अनिवार्य विषय की परीक्षा समाप्ति के बाद एक दिन का गैप तथा 29 जून, 30 जून व 01 जुलाई 2018 को संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा होने के कारण इन तिथियों पर मुख्य परीक्षा का कोई पेपर नहीं होगा।

पहले दो बार स्‍थगित हो चुकी है मुख्‍य परीक्षा

उप्र लोक सेवा आयोग पहले दो बार पीसीएस मुख्य परीक्षा-2017 को स्थगित कर चुका है। आयोग के कैलेंडर में मुख्‍य परीक्षा 17 मार्च को होनी प्रस्तावित थी, लेकिन आयोग ने परीक्षा को स्थगित करते हुए नई तिथि 17 मई निर्धारित की। बाद में आयोग ने 17 मई की परीक्षा तिथि भी स्थगित कर दी। अब तीसरी बार 18 जून से मुख्य परीक्षा की तिथि घोषित की गई है।

14032 अभ्यर्थी देंगे मुख्‍य परीक्षा

बता दें कि लोक सेवा आयोग ने पीसीएस प्री-2017 परीक्षा का परिणाम इसी साल 19 जनवरी को घोषित किया था। प्रारंभिक परीक्षा में 14032 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया है। डिप्टी कलेक्टर और डिप्टी एसपी समेत विभिन्न श्रेणी के 677 पदों के लिए पीसीएस-2017 की प्रारंभिक परीक्षा 24 सितंबर 2017 को हुई थी। कुल 455297 परीक्षार्थियों में से 246654 परीक्षा में शामिल हुए थे।

इस बार नायब तहसीलदार के हैं सबसे ज्‍यादा पद

पीसीएस-2017 में 27 प्रकार के कुल 677 पद हैं। इसमें सबसे ज्यादा 114 पद नायब तहसीलदार के हैं। इनके अलावा डिप्टी कलेक्टर के 22, डिप्टी एसपी के 90, सीटीओ के 80, जिला कमांडेंट होमगार्ड्स के 4, बीडीओ के 97, जीटीओ/पीटीओ के 9, टीओ के 47, डीआरएमओ के 4, डीएसओ के 2, सहायक श्रमायुक्त के 8, अभिहित अधिकारी के 2, कृषि अधिकारी समूह ‘ख के 9, सांख्यिकी अधिकारी के 5, जिला युवा कल्याण अधिकारी के 5, जेल अधीक्षक के 4, डीपीआरओ के 10, जिला दिव्यांग कल्याण अधिकारी के 16, जिला उद्यान अधिकारी ग्रेड-वन के 15, जिला उद्यान अधिकारी ग्रेड-टू के 6, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी के 14, सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक के 8, अधिशाषी अधिकारी श्रेणी-वन के 18, जिला रोजगार सहायक अधिकारी के 84 पद हैं।

Related Post

पूर्वोत्तर में लहराया भगवा, भाजपा की जीत से आसान हुई 2019 की राह

Posted by - March 4, 2018 0
त्रिपुरा में जबर्दस्त प्रदर्शन से इतिहास रचते हुए भाजपा ने वामदलों का गढ़ ध्वस्त किया मेघालय में एनपीपी के नेतृत्व…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *