कर्नाटक : इस गणित से येदियुरप्पा हासिल कर सकते हैं बहुमत

86 0

बेंगलुरु। सुप्रीम कोर्ट ने बीएस येदियुरप्पा को विश्वास मत हासिल करने के लिए शनिवार (19 मई) की शाम 4 बजे तक का वक्त दिया है। इसके साथ ही प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति करने के लिए भी कोर्ट ने कहा है। येदियुरप्पा के पास बहुमत हासिल करने के लिए कम वक्त बचा है, लेकिन राजनीति संभावनाओं का क्षेत्र है। ऐसे में दो तरीके ऐसे हैं, जिनके जरिए येदियुरप्पा बहुमत साबित कर सकते हैं।

पहला गणित
बीजेपी के 104 विधायक हैं। 1 निर्दलीय विधायक का समर्थन है। ऐसे में 224 में से 222 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिए 111 सदस्यों का समर्थन जरूरी है। यानी येदियुरप्पा अगर 6 और विधायकों को कांग्रेस-जेडीएस खेमे से अपने पाले में कर लेते हैं, तो आसानी से बहुमत साबित कर देंगे।

दूसरा गणित
बीजेपी अगर 6 विधायकों का जुगाड़ नहीं कर पाती, तो उसे विधानसभा में बहुमत परीक्षण के दौरान विधायकों की संख्या कम करनी होगी। इसके लिए जरूरी होगा कि 222 सदस्यीय विधानसभा में 14 विधायक वोटिंग न करें। ऐसे में विधानसभा में सदस्यों की उस वक्त संख्या 208 हो जाएगी और 104 सदस्यों के साथ बीजेपी आसानी से बहुमत साबित कर लेगी।

2 और सीटों पर होने वाले हैं चुनाव
बता दें कि कर्नाटक विधानसभा की 2 सीटों के लिए 28 मई को वोट पड़ने वाले हैं। यानी अगर ऊपर दी गई गणित के हिसाब से येदियुरप्पा बहुमत हासिल कर भी लेते हैं, तो भी बीजेपी को बहुमत बरकरार रखने के लिए दोनों सीटों पर जीत हासिल करनी होगी।

Related Post

पत्रकार विनोद वर्मा गिरफ्तार, वसूली व धमकी देने का केस दर्ज

Posted by - October 27, 2017 0
गाजियाबाद से हुई गिरफ्तारी, छत्‍तीसगढ़ के सीडी कांड में बताई जा रही उनकी भूमिका गाजियाबाद: गाजियाबाद के इंदिरापुरम से वरिष्ठ पत्रकार विनोद…

आजम को अमर सिंह ने दी खुली चुनौती, बोले – ’30 को आऊंगा रामपुर, ले लेना कुर्बानी !’

Posted by - August 28, 2018 0
लखनऊ। राज्यसभा सांसद अमर सिंह ने मंगलवार (28 अगस्‍त) को राजधानी में प्रेस कांफ्रेंस कर आजम खान और अखिलेश यादव…

भीमा कोरेगांव केस – माओवादियों-एक्टिविस्ट्स में संपर्क के हैं ‘साक्ष्य’ : सुप्रीम कोर्ट

Posted by - September 28, 2018 0
शीर्ष कोर्ट ने एसआईटी जांच से किया इनकार, अभी 4 हफ्ते और नजरबंद रहेंगे एक्टिविस्ट्स नई दिल्‍ली। सुप्रीम कोर्ट ने इस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *