जिन चीफ जस्टिस के खिलाफ खड़े हुए थे चेलमेश्वर, उन्हीं के साथ बेंच करेंगे शेयर

36 0

नई दिल्ली। आपको इस साल जनवरी का महीना याद होगा। इस महीने सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के तौर-तरीकों पर सवाल उठाते हुए मीडिया से बात की थी। इन चार जजों में चीफ जस्टिस के बाद नंबर दो जस्टिस जस्ती चेलमेश्वर भी शामिल थे। दोनों के बीच खाई पटी हो या नहीं, लेकिन अब जस्टिस चेलमेश्वर और चीफ जस्टिस फिर साथ दिखने जा रहे हैं।

18 मई को बेंच में साथ बैठेंगे चेलमेश्वर और चीफ जस्टिस
चीफ जस्टिस की ओर से केस बंटवारे को मुद्दा बनाकर सवाल उठाने वाले चार जजों में से एक जस्टिस जस्ती चेलमेश्वर 18 मई, 2018 को चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के साथ ही सुप्रीम कोर्ट के कोर्ट नंबर 1 में मामलों की सुनवाई करेंगे। उनके साथ तीसरे जज डॉ. जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ होंगे।

चीफ जस्टिस के साथ क्यों बैठेंगे चेलमेश्वर ?
दरअसल, जस्टिस जस्ती चेलमेश्वर 22 मई को रिटायर होने वाले हैं। सुप्रीम कोर्ट में 18 मई के बाद गर्मी की छुट्टियां होने वाली है। परंपरा है कि जब भी सुप्रीम कोर्ट या हाईकोर्ट का कोई जज रिटायर होता है, तो उससे पहले अपने कार्यकाल के आखिरी दिन वो चीफ जस्टिस के साथ बेंच शेयर करता है। इसी वजह से जस्टिस चेलमेश्वर भी चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के साथ बेंच शेयर करने वाले हैं।

बार एसोसिएशन का ठुकरा दिया है न्योता
बता दें कि जस्टिस जस्ती चेलमेश्वर ने सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन की ओर से उन्हें दिए जाने वाले फेयरवेल का न्योता ठुकरा दिया है। बार एसोसिएशन हमेशा ही रिटायर होने वाले जजों को फेयरवेल पार्टी देता है, जिसमें चीफ जस्टिस समेत सभी जज शामिल होते रहे हैं। जस्टिस चेलमेश्वर ने ये कहते हुए फेयरवेल पार्टी में आने से मना कर दिया कि वो रिटायरमेंट को निजी मामला समझते हैं।

चीफ जस्टिस से पहले भी विरोध जताते रहे हैं
जस्टिस चेलमेश्वर ने तीन और जजों के साथ मिलकर चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के खिलाफ मीडिया से बात की थी, लेकिन इससे पहले से ही वो चीफ जस्टिस का विरोध करते रहे हैं। यहां तक कि जस्टिस चेलमेश्वर एक समय कॉलेजियम की बैठक तक में नहीं जाते थे।

सिद्धू के मामले में दिया फैसला
जस्टिस चेलमेश्वर ने रोड रेज के एक मामले में पंजाब के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को बरी करने वाला अंतिम बड़ा फैसला सुनाया है। उस मामले में सिद्धू पर हत्या का भी आरोप था। जस्टिस चेलमेश्वर ने सिद्धू को हत्या के मामले में बरी करने का आदेश दिया और रोड रेज में दोषी पाते हुए 1 हजार रुपए का जुर्माना लगाया था।

Related Post

सीएम योगी आदित्यनाथ आज से दो दिनी गुजरात गौरव यात्रा पर

Posted by - October 13, 2017 0
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी अब भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक में शामिल हो गए हैं। वामपंथियों…

यूपी में नए औद्योगिक युग की शुरुआत, 60 हजार करोड़ की परियोजनाओं का शिलान्यास

Posted by - July 29, 2018 0
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले – उत्‍तर प्रदेश के औद्योगिक असंतुलन को दूर करेगा यह निवेश लखनऊ। यूपी में रविवार (29…

आरुषि हत्याकांड : बढ़ेंगी तलवार दंपति की मुश्किलें, सुप्रीम कोर्ट पहुंची सीबीआई

Posted by - March 9, 2018 0
आरुषि मर्डर मिस्ट्री में नया मोड़, सीबीआई ने दी तलवार दंपति की रिहाई को चुनौती नई दिल्ली। नोएडा के बहुचर्चित आरुषि-हेमराज…

कर्नाटक लोकायुक्त को ऑफिस में घुसकर चाकू से गोदा, हमलावर गिरफ्तार

Posted by - March 7, 2018 0
लोकायुक्‍त विश्‍वनाथ शेट्टी अस्‍पताल में भर्ती, शिकायतकर्ता तेजस शर्मा ने किया हमला बेंगलुरु। कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु में एक व्यक्ति…

यरूशलम में यूएस दूतावास के उद्घाटन से पहले हिंसक संघर्ष, 37 फिलिस्तीनियों की मौत

Posted by - May 14, 2018 0
इजरायली सेना ने गाजा सीमा पर जुटे प्रदर्शनकारियों पर की गोलीबारी, 500 से अधिक घायल तेल अवीव की जगह यरूशलम…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *