पता है आपको ? 200 और 2000 का कटा-फटा नोट आप बदलवा नहीं सकते

288 0

नई दिल्ली। 200 और 2000 रुपए के नोट जारी हुए एक साल से ज्यादा हो गया है। नोटबंदी के बाद 2016 में 2000 का नोट जारी हुआ था। अगस्त 2017 में 200 रुपए का नोट रिजर्व बैंक यानी आरबीआई ने छापा था। अब ताजा जानकारी ये है कि अगर आपके पास 200 या 2000 रुपए का कोई कटा-फटा नोट हो और आप इसे बदलवाना चाहते हों तो न इसे बैंक लेंगे और न ही बदलेंगे।

आखिर क्यों नहीं बदलेंगे नोट ?
200 और 2000 के कटे-फटे नोट न बदले जाने की बड़ी वजह ये है कि करेंसी के एक्सचेंज से जुड़े नियम के दायरे में इन नोटों को नहीं रखा गया है। कटे-फटे या गंदे नोट बदलने के लिए आरबीआई ने नोट रिफंड रूल बनाया है। ये रूल आरबीआई एक्ट के सेक्शन 28 में आता है। एक्ट के मुताबिक 5 रुपए, 10 रुपए, 50 रुपए, 100 रुपए, 500 रुपए, 1000 रुपए, 5000 रुपए और 10000 रुपए के नोटों को बदले जाने की बात कही गई है। बता दें कि अब 1000, 5000 और 10000 रुपए के नोट प्रचलन में नहीं हैं, लेकिन आरबीआई ने इन नोटों के बारे में रूल से जानकारी नहीं हटाई। साथ ही 200 और 2000 के नोटों को लिस्ट में जोड़ा भी नहीं गया। बता दें कि फिलहाल 2,000 रुपए के करीब 6.70 लाख करोड़ नोट चलन में हैं।

बैंकों का क्या है कहना ?
बैंकों के मुताबिक, अभी 200 या 2000 के किसी नोट के गंदे होने या कटे-फटे होने का मामला सामने नहीं आया है। हालांकि, उनका कहना है कि रूल में इन्हें तुरंत जोड़ने की जरूरत है, वरना आने वाले वक्त में दिक्कतें शुरू हो सकती हैं। वहीं, आरबीआई का कहना है कि साल 2017 में उसने बदलाव के लिए वित्त मंत्रालय को चिट्ठी भेजी थी। आरबीआई ने कहा है कि 200 और 2000 के नोटों की अभी बैंकों में अदला-बदली नहीं की जा सकती। वहीं, सरकार के स्तर पर कहा जा रहा है कि जल्दी ही नियमों में बदलाव कर दिया जाएगा।

Related Post

वैज्ञानिकों ने बनाई बिना ड्राइवर वाली कार , ट्रैफिक लाइट और जुर्माने से मिलेगी मुक्ति

Posted by - November 1, 2018 0
वैज्ञानिकों ने बिना ड्राइवर वाली कार विकसित की है। उनका दावा है कि इस तकनीक से ट्रैफिक लाइट और लोगों…

इटावा में दो नाबालिग लड़कियों की गोली मारकर हत्या, रेप किए जाने की आशंका

Posted by - April 17, 2018 0
इटावा। यूपी के इटावा में दिल दहला देने वाली घटना हुई है। यहां दो नाबालिग लड़कियों की गोली मारकर हत्या…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *