HIGHLIGHTS: कर्नाटक में 55600 पोलिंग स्टेशन, 3.5 लाख सुरक्षाबल तैनात

94 0

बेंगलुरु। कर्नाटक विधानसभा की 224 में से 222 सीटों के लिए वोटिंग जारी है। राज्य में वोटरों की कुल तादाद करीब 5 करोड़ है, लेकिन देखना ये है कि 15 मई को सरकार किसकी बनती है। आपको बताते हैं कर्नाटक में चुनाव से जुड़ी कुछ खास बातें।

  • राज्य में मुख्य मुकाबला कांग्रेस, बीजेपी और जेडीएस के बीच है।
  • जयनगर में बीजेपी उम्मीदवार के निधन पर चुनाव टल गए हैं। वहीं राज राजेश्वरी नगर सीट पर 10 हजार वोटर आईडी कार्ड मिलने की वजह से चुनाव को 28 मई के लिए टाला गया है।
  • राज्य में 4.98 करोड़ से ज्यादा वोटर हैं।
  • पुरुष वोटरों की संख्या 2.52 करोड़ है।
  • महिला वोटरों की संख्या 2.44 करोड़ है।
  • ट्रांसजेंडर वोटरों की संख्या 4552 है।
  • वोटिंग के लिए 55 हजार 600 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं।
  • शांतिपूर्ण और निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए 3.5 लाख सुरक्षाबल तैनात किए गए हैं।
  • एक एप लॉन्च किया गया है। इस एप से पता चलेगा कि किसी पोलिंग स्टेशन पर कतार में उस वक्त कितने लोग खड़े हैं।
  • 1985 के बाद से कोई भी पार्टी कर्नाटक में दोबारा चुनाव नहीं जीत सकी है।
  • सिद्धरमैया सरकार 2013 से सत्ता में है।
  • बीजेपी ने कर्नाटक में 2008 से 2013 तक सरकार चलाई थी।
  • मौजूदा सीएम सिद्धरमैया बादामी और चामुंडेश्वरी से चुनाव लड़ रहे हैं।
  • पूर्व सीएम बीएस येदियुरप्पा शिकारीपुरा से मैदान में हैं।
  • पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी चेन्नपटना और रामनगर सीट से किस्मत आजमा रहे हैं।
  • पूर्व सीएम और बीजेपी नेता जगदीश शेट्टार ने हुबली और धारवाड़ से ताल ठोकी है।
  • शेट्टार के खिलाफ एक सीट पर 25 उम्मीदवार मैदान में उतरे हैं।

Related Post

रिसर्च : माइक्रोवेव, रेफ्रिजरेटर, सिंक में भी पनपते हैं बैक्टीरिया, हर हफ्ते सफाई जरूरी

Posted by - November 5, 2018 0
नई दिल्‍ली। सभी जानते हैं ढेर सारे ऐसे बैक्टीरिया हैं जो संक्रमण फैलाते हैं। ये बैक्‍टीरिया खास तौर पर ऐसी…

टीम इंडिया के कोच रवि शास्त्री खुद से 20 साल छोटी इस एक्ट्रेस संग कर रहे डेट !

Posted by - September 3, 2018 0
मुंबई। बॉलीवुड और क्रिकेट जगत का नाता काफी पुराना है। क्रिकेट स्टार्स और बॉलीवुड एक्ट्रेसेस की लव स्टोरी का कनेक्शन…

असम के बाद अब झारखंड और यूपी में पाक और बांग्लादेशी घुसपैठियों की होगी पहचान

Posted by - August 13, 2018 0
रांची/मेरठ। असम में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर यानी एनआरसी बनने और 40 लाख लोगों के इस रजिस्टर में शामिल न होने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *