सुप्रीम कोर्ट का आदेश – PM के पास समय नहीं, तो 1 जून से खोल दें ईस्टर्न एक्सप्रेस-वे

41 0
  • कोर्ट ने कहा, ‘उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री का इंतजार क्‍यों, ASG भी कर सकते हैं उद्घाटन’

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने हरियाणा और यूपी के शहरों को जोड़ने वाला 135 किमी लंबा ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे बनने के बावजूद उसे जनता के लिए न खोले जाने पर नाराजगी जताई है। सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया है कि अगर 31 मई तक ईस्टर्न कॉरिडोर का उद्घाटन नहीं होता है तो इसे 1 जून से जनता के लिए खोल दिया जाए। इसमें देरी दिल्ली की जनता के हित में नहीं होगी।

सुप्रीम कोर्ट ने पूछा – पीएम का इंतजार क्यों ?

सुनवाई के दौरान जस्टिस मदन बी लोकुर और जस्टिस दीपक गुप्ता की अध्यक्षता वाली पीठ ने पीएम के उद्घाटन न करने के चलते कॉरिडोर के चालू न होने पर सख्त टिप्पणी की। पीठ ने कहा, ‘हमें बताया गया था कि ईस्‍टर्न कॉरिडोर का काम पूरा हो गया है और अप्रैल के आखिर तक पीएम इसका उद्घाटन कर देंगे, लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पीएम आने वाले दिनों में उपलब्‍ध नहीं रहेंगे। आखिर पीएम का इंतजार क्यों, सरकार की ओर से कोर्ट में पेश हुए ASG भी उद्घाटन कर सकते हैं।’ पीठ ने उदाहरण देते हुए पूछा, ‘आखिर मेघालय हाईकोर्ट बिना औपचारिक उद्घाटन के 5 साल से काम कर रहा है तो फिर ईस्टर्न कॉरिडोर क्यों नहीं चालू हो सकता ?’

क्‍या कहा NHAI ने ?

सुनवाई के दौरान NHAI ने बताया कि हमने उद्घाटन के लिए प्रधानमंत्री से कहा है। इस पर कोर्ट ने कहा, ‘अगर वो नहीं करते हैं तो आप क्यों नहीं कर देते, मेहनत तो आप लोगों की है। पिछली सुनवाई में आपने कहा था कि अप्रैल में उद्घाटन होगा, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। वहीं, हरियाणा सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा है कि इस एक्सप्रेस-वे का 81 फीसदी काम पूरा हो चुका है, जबकि डेडलाइन फरवरी 2019 की है। हम ये काम जून 2018 तक पूरा कर लेंगे। कोर्ट ने कहा है कि इस काम में देरी जनता के लिए अच्छी नहीं होगी।

क्या है ईस्टर्न पेरिफेरल एक्‍सप्रेस-वे 

ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे 135 किलोमीटर लंबा है। इस एक्‍सप्रेस-वे के चालू हो जाने से एनसीआर के कई शहर, मसलन फरीदाबाद, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद, सोनीपत आपस में जुड़ जाएंगे। इस एक्सप्रेस-वे को बनाने में 11 हजार करोड़ की लागत आई है। गौरतलब है कि कुंडली से पलवल तक गाजियाबाद के रास्ते जाने वाले इस एक्सप्रेस-वे से सफर की दूरी काफी कम हो जाएगी और समय भी लगभग आधा लगेगा। ईस्टर्न एक्सप्रेस-वे पर सात इंटरचेंज हैं, जिनसे एक से दूसरे शहर तक जा सकते हैं। पहले 29 अप्रैल को इसका उद्घाटन होने वाला था, लेकिन अब इसकी तारीख बढ़ा दी गई है।

Related Post

ब्रिटिश पीएम टेरीजा मे से मिले नरेंद्र मोदी, आपसी हित के मसलों पर हुई चर्चा

Posted by - April 18, 2018 0
लंदन। पीएम नरेंद्र मोदी ने आज ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे से मुलाकात की। दोनों नेताओं के बीच ब्रिटिश पीएम…

मंदी पर उठ रहे सवालों पर शत्रुघ्न बोले – पीएम सामने आएं और जवाब दें

Posted by - September 29, 2017 0
नई दिल्ली.मोदी सरकार की पॉलिसी खासतौर पर अरुण जेटली पर हमला बोलने वाले यशवंत सिन्हा का शत्रुघ्न सिन्हा ने एक…

तीसरी तिमाही में जीडीपी ग्रोथ बढ़कर 7.2 फीसदी, भारत ने चीन को पीछे छोड़ा

Posted by - March 1, 2018 0
आर्थिक मोर्चे पर मोदी सरकार को राहत, जीडीपी ग्रोथ रेट में वृद्धि का उद्योग जगत ने किया स्‍वागत नई दिल्ली। कृषि,…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *