Walmart की हुई Flipkart, 1 लाख करोड़ रुपये में खरीदी 77 फीसदी हिस्सेदारी

44 0
  • भारत में हुई दुनिया की अबतक की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स डील, वालमार्ट के सीईओ भारत पहुंचे

नई दिल्ली। अमेरिका की बड़ी रिटेल कंपनी वॉलमार्ट ने भारतीय ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट में बड़ी हिस्‍सेदारी खरीद ली है। फ्लिपकार्ट और वॉलमार्ट के बीच 16 अरब डॉलर (1 लाख 5 हजार 360 करोड़ रुपए) में यह डील हुई है। वॉलमार्ट ने भारतीय कंपनी में 77 फीसदी हिस्‍सेदारी खरीदी है। वॉलमार्ट की ओर से इसकी पुष्टि हो गई है। इस डील के लिए वॉलमार्ट के सीईओ Doug McMillon भारत आए थे। बता दें कि पिछले काफी दिनों से इसकी चर्चा चल रही थी।

दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स डील

विश्लेषकों का मानना है कि यह दुनिया की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स डील है। इस सौदे में 11 साल पुरानी फ्लिपकॉर्ट का कुल मूल्य 20.8 अरब डॉलर आंका गया है। इस सौदे से साल 2013 में भारतीय बाजार में प्रवेश करने वाले अमेजॉन को झटका लगा है। बता दें कि पिछले हफ्ते ही फ्लिपकार्ट का बोर्ड वॉलमार्ट के नेतृत्व वाले समूह को कंपनी का 75 प्रतिशत तक हिस्‍सा बेचने पर सहमत हुआ था।

क्‍या होगा भारत पर असर ?

इस डील से भारत की ई-कॉमर्स इंडस्ट्री पर बड़ा असर पड़ने की संभावना जताई जा रही है। विशेषज्ञों का मानना है कि दुनिया की यह सबसे बड़ी रिटेल डील कारोबारियों और उपभोक्ताओं दोनों पर ही असर डालेगी। फ्लिपकार्ट के ऑनलाइन सेलर्स को इस बात की चिंता है कि वॉलमार्ट उन्हें हाशिए पर धकेल देगी। वॉलमार्ट का यह इतिहास रहा है कि वह लो प्राइज की रेस शुरू कर छोटे कारोबारियों को खत्म कर देती है। ऑल इंडिया ऑनलाइन वेंडर्स एसोसिएशन (AIOVA) के प्रवक्ता का कहना है कि ये प्रॉडक्ट्स तुलनात्मक रूप से काफी कम कीमत के होंगे। ऐसे में दूसरे विक्रेताओं के लिए बाजार में टिकना बहुत मुश्किल हो जाएगा।

टैक्स पर फंस सकता है पेंच !

बताया जा रहा है कि वॉलमार्ट-फ्लिपकार्ट की इस डील पर टैक्स का पेंच फंस सकता है। इनकम टैक्स विभाग की इस पूरी डील पर नजर है। सूत्रों के अनुसार, इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने वालमार्ट कंपनी को ई-मेल भेजकर कहा है कि चूंकि यह संपत्ति भारत में है, इसलिए ‘विदहोल्डिंग टैक्स’ की देनदारी बनती है। ई-मेल में आईटी एक्ट के सेक्शन 9 (1) (i) का हवाला दिया गया है, जिसमें इसका प्रावधान है। इसके अनुसार, विदेशी भी भारत में मौजूद संपत्ति का सौदा करे तो ये टैक्स लगेगा। बता दें कि इस डील में 10-20 फीसदी तक विदहोल्डिंग टैक्स लग सकता है।

Related Post

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *