दिल्ली में आधी रात को आया 70 किमी की रफ्तार से तूफान, कई जगह बिजली गुल

55 0
  • आज भी यूपी, हरियाणा और दिल्‍ली समेत कई राज्‍यों में अलर्ट जारी, कई जगह स्‍कूल बंद

नई दिल्ली। आंधी-तूफान ने पूरे उत्तर भारत को हिला कर रख दिया है। मौसम विभाग की भविष्यवाणी काफी हद तक सच साबित हुई और सोमवार (7 मई) आधी रात को धूल भरे आंधी-तूफान ने देश की राजधानी में दस्तक दी। सफदरजंग वेधशाला के एक अधिकारी ने कहा कि 70 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दिल्‍ली में देर रात करीब 11 बजकर 15 मिनट पर अंधड़ की शुरुआत हुई। अंधड़ शुरू होते ही कई जगह बिजली गुल हो गई, पेड़ गिरे और हल्की बूंदाबांदी भी हुई। हालांकि किसी बड़े नुकसान की खबर नहीं है।

आज दोपहर आंधी और तेज बारिश की आशंका

दिल्ली और हरियाणा के बाद तूफान ने उत्तराखंड और हिमाचल की ओर रुख कर लिया है। उत्तर भारत और देश के पूर्वी हिस्सों में रहने वाले लोगों को सावधान रहने को कहा गया है क्योंकि आज भारी बारिश, आंधी और तूफान की आशंका है। मौसम विभाग का कहना है कि मंगलवार (8 मई) दोपहर में तेज हवाएं और बारिश हो सकती है। दोपहर 3 से शाम के 7 बजे तक तेज़ हवाओं का अंदेशा है।

देश में कहां कहां अलर्ट?

मौसम विभाग ने देश के 13 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों में आंधी तूफान और बारिश की चेतावनी जारी की है। दिल्ली, राजस्थान, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, उत्तराखंड, हिमाचल, पश्चिमी यूपी में 50 से 70 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से हवा चलने की चेतावनी दी गई है। पंजाब, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिमी मप्र में भी इसका असर दिखेगा।

दिल्‍ली-यूपी में कई जगह स्कूल बंद

आंधी तूफान के अलर्ट के बाद देश में कई जगहों पर एहतियातन स्कूल कॉलेज बंद कर दिए हैं। दिल्ली में मंगलवार को दोपहर बाद के सभी स्कूलों में छुट्टी कर दी गई है। वहीं हरियाणा में भी सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल बंद हैं। यूपी के गाजियाबाद में सभी स्कूल कॉलेज बंद रहेंगे। नोएडा में डीपीएस, इंद्रप्रस्‍थ समेत अभी सिर्फ 4 स्कूलों ने छुट्टी घोषित की है। मेरठ, फिरोजाबाद, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद व संभल में भी स्कूल, कॉलेज बंद रहेंगे। हाथरस, आगरा में 8वीं तक के स्कूल बंद रहेंगे। उत्तराखंड के देहरादून और हरिद्वार में भी 12वीं तक के स्कूल बंद रहेंगे।

क्यों आया तूफान?

तूफान के पीछे सबसे बड़ा कारण पश्चिमी विक्षोभ यानी वेस्टर्न डिस्टर्बेंस बताया जा रहा है। वेस्टर्न डिस्टर्बेंस भूमध्यसागर से उठी तूफानी हवाओं को कहा जाता है। जिन क्षेत्रों में इसका असर होता है, उन इलाकों में तेज आंधी और तूफान आते हैं। तेज हवाओं और गरज के साथ बारिश होती है। मौसम विभाग के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी से आ रही हवाओं और वेस्टर्न डिस्टर्बेंस के बीच टकराव हुआ, जिसने तूफान का रूप धारण कर लिया।

15 साल बाद बद्रीनाथ में मई में बर्फबारी

उत्तराखंड के पहाड़ी इलाकों में भी मौसम खराब होना शुरू हो गया है। पहाड़ी इलाकों में तेज आंधी तूफान, बारिश के साथ साथ ओले भी गिरे हैं। चमोली में बारिश हुई और बदरीनाथ धाम में बर्फबारी हुई है। चमोली कई जगह पेड़ और बिजली के खंभे तूफान में गिर गए। बताया जा रहा है कि करीब 15 साल बाद बदरीनाथ में मई महीने में बर्फबारी हुई है।

Related Post

SC का आदेश – जासूसी कांड में बरी पूर्व इसरो वैज्ञानिक को दें 50 लाख रुपये मुआवजा

Posted by - September 14, 2018 0
नई दिल्ली। इसरो जासूसी कांड में सुप्रीम कोर्ट ने एक बड़ा फैसला सुनाया है। इस मामले में जासूसी के आरोप से…

पहले चौथी फिर छठी लाइन में बैठाए गए राहुल गांधी, कांग्रेस भड़की

Posted by - January 26, 2018 0
सुरजेवाला ने साधा केंद्र पर निशाना, बोले – जान-बूझकर कांग्रेस अध्यक्ष को छठी पंक्ति में बिठाया नई दिल्‍ली। कांग्रेस अध्यक्ष…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *