पीरामल खानदान की बहू बनेंगी मुकेश अंबानी की बेटी ईशा, दिसंबर में शादी

112 0
  • भारत की प्रतिष्ठित रियल एस्टेट कंपनियों में से एक पीरामल रियलिटी के संस्थापक हैं आनंद
  • ईशा भी हैं एक बिजनेस वूमेन, जिनके नेतृत्व में रिलायंस जियो की 4जी सर्विस लॉन्च की गई

मुंबई। देश के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी की बेटी ईशा की शादी का भी ऐलान हो गया है। अभी हाल ही में अंबानी के बेटे आकाश की भी श्‍लोका मेहता के साथ सगाई हुई है। उनके पारिवारिक सूत्रों का कहना है कि इसी साल दिसंबर में ईशा अंबानी की शादी मशहूर बिजनेसमैन अजय पीरामल के बेटे आनंद से होगी। बताया जा रहा कि आनंद और ईशा लंबे समय से दोस्त हैं और दोनों परिवारों के बीच चार दशक से संबंध हैं। आनंद ने ईशा को महाबलेश्वर के एक मंदिर में शादी का प्रस्ताव दिया था।

कौन हैं आनंद पीरामल ?

आनंद पीरामल देश के मशहूर उद्योगपति और पीरामल एंटरप्राइजेज के मालिक अजय पीरामल के बेटे हैं। अजय पीरामल और उनकी पत्‍नी स्वाति पीरामल कॉरपोरेट जगत के बड़े नाम हैं। वे 30 हजार करोड़ की संपत्ति के मालिक हैं। आनंद यूनिवर्सिटी ऑफ पेनसिल्वेनिया से अर्थशास्त्र में स्नातक हैं। साथ ही उन्‍होंने हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में मास्टर्स किया है। आनंद पीरामल ने कुछ समय पहले ही हेल्थकेयर और रियलिटी सेक्‍टर में 2 स्टार्टअप शुरू किए हैं। आनंद भारत की प्रतिष्ठित रियल एस्टेट कंपनियों में से एक पीरामल रियलिटी के संस्थापक हैं।

मुकेश अंबानी ने बिजनेसमैन बनने को प्रेरित किया : आनंद

बता दें कि हाल ही में एक कार्यक्रम में आनंद ने बताया था कि वे मुकेश अंबानी द्वारा प्रेरित करने पर ही बिजनेसमैन बने हैं। आनंद पीरामल ने बताया, ‘मैंने पूछा था कि मैं बैंकिंग सेक्टर में जाऊं या फिर कंसल्टेंसी फील्ड में। इस पर मुकेश अंबानी ने उन्हें कहा कि एक कंसल्टेंट बनना क्रिकेट देखने जैसा है, जबकि खुद बिजनेस करना ऐसा जैसे खुद क्रिकेट खेलना। अगर तुम कुछ करना चाहते हो तो बिजनेस करो और आज से ही शुरू करो।’

ईशा अंबानी हैं रिलायंस जियो की निदेशक

 ईशा अंबानी मुकेश अंबानी की इकलौती बेटी हैं। ईशा ने येल विश्वविद्यालय से पढ़ाई की है। पढ़ाई पूरी करने के बाद ईशा ने कंसल्टिंग फर्म मैकिंसे में काम किया और उसके बाद रिलायंस जियो परियोजना के महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट का हिस्सा बनीं। ईशा रिलायंस जियो और रिलायंस रिटेल की निदेशक मंडल की सदस्य हैं। इन दिनों वे स्टैण्डफोर्ड के ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन प्रोग्राम में स्नातकोत्तर कर रही हैं।

Related Post

शोधकर्ताओं ने बनाया ईको-फ्रेंडली डायपर, जो पूरी तरह किया जा सकेगा नष्ट

Posted by - August 2, 2018 0
मद्रास आईआईटी के रसायन विज्ञान विभाग के शोधकर्ताओं ने विकसित किया सुपर एब्जोर्बेंट पॉलिमर नई दिल्‍ली। आजकल शहरी क्षेत्रों में…

रतन टाटा ने आवारा कुत्तों के लिए वो किया, जैसा अब तक किसी ने शायद नहीं किया

Posted by - August 8, 2018 0
मुंबई। रतन टाटा को भला कौन नहीं जानता। देश-दुनिया के चंद बड़े उद्योगपतियों में उनकी गिनती होती है। टाटा ग्रुप…

एशियन गेम्स 2018 : विनेश ने रचा इतिहास, महिला कुश्ती में पहली बार भारत को दिलाया गोल्ड

Posted by - August 20, 2018 0
जकार्ता। महिला रेसलर विनेश फोगाट ने एशियाई खेलों में इतिहास रचते हुए सोमवार (20 अगस्‍त) को 50 किग्रा फ्रीस्टाइल कुश्ती में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *