शोपियां में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, हिज्बुल कमांडर समेत 5 आतंकी ढेर

40 0
  • मारे गए आतंकियों में कश्‍मीर यूनिवर्सिटी में सोशियोलॉजी का असिस्‍टेंट प्रोफेसर मोहम्‍मद रफी भट भी
  • कश्मीर में आतंकियों के सफाए को सेना चला रही ऑपरेशन क्लीनस्वीप, दो दिन में 8 आतंकी मारे गए

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों को रविवार (6 मई) को बड़ी कामयाबी हासिल हुई है। सुरक्षाबलों ने बड़ी कार्रवाई करते हुए हिज्बुल मुजाहिदीन के टॉप कमांडर सद्दाम पद्दार समेत 5 आतंकियों को मुठभेड़ में मार गिराया। मारे गए आतंकियों में कश्मीर यूनिवर्सिटी का वो असिस्टेंट प्रोफेसर मोहम्मद रफी भट भी शामिल है, जो बीते कुछ दिनों से गायब था और अब उसके आतंक की राह पकड़ लेने का खुलासा हुआ है।

कहां हुई मुठभेड़ ?

सुरक्षाबलों को शोपियां जिले के जैनापोरा इलाके के बाडीगाम गांव में आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिली थी। इसके बाद रविवार सुबह से सर्च ऑपरेशन शुरू किया गया। एक अफसर ने बताया कि सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकियों को समर्पण करने के लिए कहा गया लेकिन आतंकी अंधाधुंध गोलियां चलाते रहे। इसके बाद सुरक्षाबलों ने भी जवाबी कार्रवाई की। दोपहर से पहले ही सुरक्षा बलों को बड़ी कामयाबी उस समय मिली जब उन्होंने 5 आतंकियों को ढेर कर दिया।

कौन-कौन आतंकी मारे गए ?

एक सुरक्षा अधिकारी ने बताया है कि मारे गए आतंकियों में हिज्बुल का टॉप कमांडर सद्दाम पाडर, कश्‍मीर विवि में सोशियोलॉजी विभाग का असिस्‍टेंट प्रोफेसर डॉ. मुहम्मद रफी भट, बिलाल मौलवी और आदिल मलिक शामिल हैं। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी एसपी वैद ने ट्वीट कर बताया – ‘मुठभेड़ के बाद 5 आतंकियों के शव बरामद हुए हैं। आर्मी, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस ने शानदार काम किया।’ एक अन्‍य पुलिस अफसर का कहना है कि मारे गए आतंकी किस गुट के थे, इसकी जांच की जा रही है।

हमले से पहले दी गई चेतावनी

सुरक्षा बलों ने आतंकियों पर अंतिम हमले से पहले उन्हें सरेंडर का भी मौका दिया। कश्मीर के आईजी एसपी पाणि ने बताया, ‘जब हमें भट के आतंकियों के साथ होने का पता चला तो हमने गांदेरबल स्थित उसके परिवार से उसे समर्पण कराने को कहा। उसके परिजन मौके पर बुलाए गए और उनसे अपने बेटे को आतंक की राह छोड़ देने की अपील करवाई गई। खुद शोपियां के एसपी ने माइक पर आतंकियों से कहा कि वे गोली चलाना बंद कर दें और सरेंडर कर दें। लेकिन आतंकियों ने किसी की नहीं सुनी और फायरिंग जारी रखी और जवाबी कार्रवाई में पांचों आतंकी ढेर हो गए।

शनिवार को भी मारे गए थे 3 आतंकी

बता दें कि सुरक्षाबलों ने शनिवार को श्रीनगर के बाहरी इलाके में हुई मुठभेड़ में तीन आतंकियों को मार गिराया था। मारे गए आतंकियों में से दो पाकिस्तानी और एक स्थानीय था। इस दौरान सीआरपीएफ के एक असिस्टेंट कमांडेंट लंबोचा सिंह सहित चार जवान घायल भी हुए। इस बीच, मुठभेड़ स्थल से थोड़ी दूर सफा कदल में सड़क दुर्घटना में युवक की मौत के बाद श्रीनगर में तनाव फैल गया। सुरक्षाबलों को इसका जिम्मेदार बताकर लोगों ने कई जगह पत्थरबाजी की। कई जगह आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े। जिले में इंटरनेट सेवाएं भी बंद करनी पड़ीं।

Related Post

पैराडाइज पेपर्स लीक : सरकार ने सीबीडीटी को दिए जांच के आदेश

Posted by - November 6, 2017 0
पैराडाइज पेपर्स लीक में  भारत समेत दुनिया के कई देश, विजय माल्‍या से जुड़े प्रमोटर्स भी शामिल नई दिल्ली। पैराडाइज पेपर्स…

कायम की मिसाल : कुली ने पास की केरल की सिविल सर्विस परीक्षा

Posted by - May 9, 2018 0
एर्णाकुलम रेलवे स्टेशन पर बैठकर रेलवे की मुफ्त Wi-Fi से की थी परीक्षा की तैयारी तिरुवनंतपुरम। सिविल सर्विस परीक्षा में सफल होने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *