कर्नाटक : बेल्लारी में बीजेपी को झटका, वोट और प्रचार नहीं कर सकेंगे जनार्दन रेड्डी

155 0

नई दिल्ली। कर्नाटक के चुनावी समर में बीजेपी को तगड़ा झटका लगा है। माइनिंग माफिया के नाम से पहचाने जाने वाले जी. जनार्दन रेड्डी बेल्लारी में न तो दाखिल हो सकेंगे, न भाई के लिए वोट मांग सकेंगे और न ही वोट डाल सकेंगे।

रेड्डी पर किसने लगाई है रोक ?
बता दें कि जी. जनार्दन रेड्डी के बेल्लारी में घुसने पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा रखी है। जनार्दन रेड्डी के भाई जी. सोमशेखर रेड्डी ने बेल्लारी से बीजेपी के टिकट पर परचा भरा है। जनार्दन रेड्डी ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी दाखिल कर भाई के लिए चुनाव प्रचार करने और वोट डालने की खातिर 8 मई, 9 मई और 12 मई को बेल्लारी जाने की इजाजत मांगी थी, लेकिन सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस एके सीकरी और जस्टिस अशोक भूषण की बेंच ने जनार्दन की अर्जी ठुकरा दी। सुप्रीम कोर्ट ने ये भी साफ कर दिया कि जनार्दन रेड्डी वोट डालने के लिए भी बेल्लारी में दाखिल नहीं हो सकते।

रेड्डी बंधुओं पर गंभीर आरोप
बता दें कि जनार्दन रेड्डी और सोमशेखर रेड्डी पर खनन माफिया होने के आरोप हैं। जनार्दन रेड्डी तो जेल भी जा चुके हैं। जनार्दन पर कई मुकदमे चल रहे हैं और उन्हें बेल्लारी जिले में घुसने की इजाजत नहीं है।

राहुल गांधी ने साधा था निशाना
राहुल गांधी ने गुरुवार को बेल्लारी जिले में एक जनसभा में रेड्डी बंधुओं का नाम लिए बिना बीजेपी पर निशाना साधा था। राहुल ने आरोप लगाया था कि बीजेपी इस बार शोले के गब्बर सिंह, सांभा और कालिया जैसों को कर्नाटक विधानसभा में भेजना चाहती है। अब सुप्रीम कोर्ट के जनार्दन रेड्डी पर दिए गए फैसले को कांग्रेस अपने पक्ष में भुनाकर इसका इस्‍तेमाल बीजेपी के खिलाफ और तगड़े वार करने के लिए कर सकती है।

Related Post

अगर आपका दिमाग बड़ा है जो कैंसर होने की संभावना है दोगुनी : स्टडी

Posted by - October 31, 2018 0
कैलिफोर्निया। अगर आपका दिमाग बड़ा है तो आपको कैंसर होने की संभवाना ज्यादा है। नॉर्वीजन यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस ऐंड टेक्नॉलजी…

फुटबॉलर केपरनिक को ब्रैंड अंबेसडर बनाने पर भड़के अमेरिकी, जलाए नाइकी के जूते

Posted by - September 5, 2018 0
न्यूयॉर्क। खेलों से जुड़े सामान बनाने वाली मशहूर कंपनी नाइकी ने जबसे फुटबॉलर कॉलिन केपरनिक को अपना ब्रैंड अबेंसडर बनाया…

ग्लूकोमा के मरीजों को राहत, आंखों की रोशनी बचाएगा यह स्मार्ट डिवाइस

Posted by - November 15, 2018 0
वाशिंगटन। ग्लूकोमा यानी काला मोतिया आंखों की ऐसी बीमारी है, जो बिना किसी आहट के चुपचाप आंखों की रोशनी छीन लेती…

रोजाना फिश खाएंगे तो रिटायरमेंट की उम्र में भी रहेंगे हेल्दी, बीमार होने की संभावना हो जाती है कम

Posted by - October 22, 2018 0
टेक्सास। अगर रोजाना फिश खाएंगे तो इसमें मौजूद सैल्मन, मैकेरल और सार्डिन जैसे तेल की वजह से आप हमेशा रिटायरमेंट…

डॉ. भीमराव अंबेडकर के नाम पर नौटंकी कर रही योगी सरकार : मायावती

Posted by - March 29, 2018 0
लखनऊ। यूपी की योगी आदित्‍यनाथ सरकार द्वारा संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर के नाम में बदलाव कर उसमें बीच में…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *