Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

Warning: Cannot assign an empty string to a string offset in /var/www/the2ishindi.com/public/wp-includes/class.wp-scripts.php on line 426

दलितों के घर भोज पर भाजपा सांसद ने ही उठाए सवाल, बोलीं – किया जा रहा अपमानित

80 0
  • सावित्री फुले ने कहा – दलितों के हाथ का बना खाएं और खुद बर्तन धोएं तो मानूंगी ‘दलित प्रेम’

लखनऊ। बहराइच सुरक्षित सीट से बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने बीजेपी नेताओं के दलित के घर जाने और वहां खाना खाने को दलितों का अपमान बताया है। उन्होंने कहा, ‘दलितों के घर खाना खाकर टीवी, फेसबुक और सोशल मीडिया में फोटो शेयर कर ये नेता दलितों का अपमान कर रहे हैं। मैं इससे असहमत हूं।’ बता दें कि पिछले दिनों ही यूपी सरकार के मंत्री सुरेश राणा की ओर से एक दलित के घर में रात्रि भोज पर जाने को लेकर विवाद उत्पन्न हो गया था।

दिखावे के लिए खाया जा रहा खाना

सावित्री बाई फुले ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, ‘ये नेता दलितों के घर तो खाना खाने जाते हैं लेकिन वहां खाना कोई और बनाता है, बर्तन कहीं और से आता है और खाना कोई और परोसता है। दलित साथ में खाना भी नहीं खाता है। बस दलित के घर के बाहर बोरे पर बैठकर खाना खा लेते हैं और टीवी और फेसबुक पर दिखा देते हैं। इससे पूरे देश के बहुजन समाज का अपमान हो रहा है।’

क्‍या कहा बीजेपी सांसद ने ?

बीजेपी सांसद ने कहा, ‘सरकार सबकी होती है। सबका साथ सबका विकास का नारा है तो दलित का भला करना है तो उसे आगे बढ़ाइए। उसे नौकरी दीजिए। उसकी परेशानियों को दूर करिए। जिनके पास मकान नहीं उन्हें मकान दीजिये। शोषण बंद कराइए। उसे न्याय दीजिए तब दलित उत्थान होगा।’ सावित्री बाई फुले ने कहा, ‘आप अचानक दलित के घर पहुंचेंगे तब उसकी परेशानियां पता चलेंगी। तब कभी आपको चटनी रोटी खाने को मिलेगी तो कभी सूखी रोटी मिलेगी। जैसी व्यवस्था उसके पास हो उसमें रहिए, तब दलित के दुःख दर्द का अहसास होगा। बात तो तब हो जब दलित के हाथ का बनाया हुआ खाना खाएं और खुद उसके बर्तनों को धोएं।’

पहले भी खोल चुकी हैं बीजेपी के खिलाफ मोर्चा

बीजेपी सांसद सावित्री बाई फुले ने बीते अप्रैल महीने में अपनी ही सरकार व पार्टी के कुछ वरिष्ठ नेताओं पर निशाना साधते हुए कहा था कि केंद्र सरकार आरक्षण खत्म करने की साजिश कर रही है। सावित्री बाई ने आरोप लगाया था कि केंद्र सरकार की नीतियों के कारण एससी-एसटी, पिछड़ा वर्ग और अल्पसंख्यक खतरे में हैं। भारतीय संविधान और आरक्षण भी खतरे में आ गया है। यही नहीं, सांसद सावित्री बाई ने बाबा साहब भीमराव अंबेडकर का नाम बदलकर भीमराव रामजी आंबेडकर किए जाने के योगी सरकार के फैसले पर भी नाराजगी जताई थी।

Related Post

दुनिया का एक ऐसा देश, जहां हर साल होती है गायों की सौंदर्य प्रतियोगिता

Posted by - August 16, 2018 0
बर्लिन। आपने लड़कियों, मॉडल्‍स यहां तक कि ट्रांसजेंडर के ब्यूटी कॉम्प्टीशन के बारे में तो सुना होगा, लेकिन अगर हम…

अति पिछड़े व अति दलितों को आरक्षण देने पर विचार कर रही योगी सरकार

Posted by - March 22, 2018 0
यूपी सरकार इसके लिए जल्द ही गठित करेगी एक समिति, जो सरकार को सौंपेगी रिपोर्ट लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *