दलित

योगी जी देखिए, दलित ने गेहूं नहीं काटा तो दबंगों ने उखाड़ ली उसकी मूंछ !

110 0

बदायूं। सपा सरकार के दौरान यूपी में आए दिन दलित उत्पीड़न की घटनाएं होती थीं। बीजेपी की सरकार बनने के बाद दावा किया गया कि दबंगों को बख्शा नहीं जाएगा, लेकिन योगी आदित्यनाथ की सरकार के इस दावे का दबंगों पर लगता है कोई असर नहीं पड़ा है। वे कहर बरपा रहे हैं। ताजा मामला बदायूं के आजमपुर बिसौरिया गांव का है। यहां दबंगों ने दलित को जमकर पीटा। फिर उसकी मूंछें भी उखाड़ ली।

क्या है मामला ?

आजमपुर बिसौरिया गांव में रहने वाला सीताराम खेती भी करता है और मजदूरी भी। सीताराम के मुताबिक बीती 23 अप्रैल को गांव के विजय सिंह, शैलेंद्र, पिंकू सिंह और विक्रम सिंह ने उसे बुलाकर खेत से गेहूं की फसल काटने को कहा। सीताराम ने इन लोगों से कहा कि फिलहाल उसके पास काफी काम है और दो दिन बाद ही वो गेहूं काट सकेगा। इससे चारों दबंग नाराज हो गए। सीताराम का आरोप है कि चारों दबंग ठाकुरों ने उसे जमकर पीटा। इसके बाद घसीटकर चौपाल ले गए। सीताराम के मुताबिक चौपाल के पास पेड़ से दबंगों ने उसे बांध दिया। उसके बाद फिर पिटाई की गई। इसके बाद दबंगों ने उसकी मूछें पकड़कर उखाड़ ली।

अफसरों के आदेश पर केस हुआ दर्ज

सीताराम ने दबंगों के खिलाफ थाने में शिकायत दी, लेकिन पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। इस पर सीताराम ने बदायूं के एसपी सिटी जीतेंद्र कुमार श्रीवास्तव को अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। एसपी के आदेश पर संबंधित थाने ने सीताराम की तहरीर पर दबंगों के खिलाफ केस दर्ज किया।

Related Post

फारूक बोले–इनके बाप का नहीं पीओके, शाहनवाज ने दिया जवाब-पाक के बाप का भी नहीं

Posted by - November 15, 2017 0
पाक अधिकृत कश्मीर पर जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला के विवादित बयानों का…

शपथग्रहण में ‘गॉड’ की जगह ‘डॉग’ बोल गए मुख्यमंत्री के भाई

Posted by - December 28, 2017 0
जम्मू-कश्मीर में महबूबा सरकार में मंत्रिमंडल विस्‍तार के समय दो नेताओं को दिलाई जा रही थी शपथ श्रीनगर। किसी संवैधानिक…

जिन चीफ जस्टिस के खिलाफ खड़े हुए थे चेलमेश्वर, उन्हीं के साथ बेंच करेंगे शेयर

Posted by - May 17, 2018 0
नई दिल्ली। आपको इस साल जनवरी का महीना याद होगा। इस महीने सुप्रीम कोर्ट के चार जजों ने चीफ जस्टिस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *